दरिदों की गिरफ्तारी को थाना घेरा, नारेबाजीUpdated: Sat, 26 Dec 2015 10:37 PM (IST)

24 टीमें किशोरी दुष्कर्म कांड के दरिदों को नहीं दबोच सकीं तो शनिवार को लोगों के सब्र का बांध टूट गया।

अलीगढ़। चार दिन बाद भी पुलिस की 24 टीमें किशोरी दुष्कर्म कांड के दरिदों को नहीं दबोच सकीं तो शनिवार को लोगों के सब्र का बांध टूट गया। गुस्साई छह गांवों के लोगों की भीड़ ने थाना हरदुआगंज घेर लिया और पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। बड़ी संख्या में गांव से निकलीं छात्राओं ने मुख्यमंत्री मुर्दाबाद के नारे लगाए।

बीते बुधवार को गुरसिकरन गांव से कोचिंग के लिए हरदुआगंज जा रही छात्रा की सामूहिक दुष्कर्म के बाद हत्या कर दी गई थी। दरिदों को दबोचने के लिए एसएसपी के निर्देश पर 24 टीमें काम कर रही हैं, मगर चौथा दिन बीत जाने के बाद भी मामले का खुलासा न होते देख ग्रामीणों का गुस्सा फूट गया और बजरंग दल के बैनर तले छह गांवों की भीड़ सड़क पर आ गई। एसपी देहात संसार सिंह ने आश्र्वासन दिया कि पुलिस की कई टीमें दरिदों के पीछे लगी हैं, केस जल्द सुलझा लिया जाएगा।

धरने पर किशोरी का गांव

किशोरी का गांव बेमियादी धरने पर है। शनिवार को भी गांव के पंचायतघर पर धरना जारी रहा। गांव के लोगों की मांग है कि गांव में कॉलेज की स्थापना हो, जिसके लिए ग्रामसभा भूमि देने को तैयार है। दूसरी मांग है कि दरिदे दबोचे जाएं, मगर बेकसूर जेल न जाएं। पीड़ित परिवार को आर्थिक सहायता मिलनी चाहिए।

निशुल्क पैरवी करेंगे वकील

हरदुआगंज के इस दुष्कर्म कांड में अलीगढ़ के वकीलों ने पीड़ित परिवार की ओर मदद के हाथ बढ़ाएं हैं। इंसाफ दिलाने के लिए निशुल्क पैरवी का आश्वासन दिया है।

अटपटी-चटपटी

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.