प्रद्युम्न हत्याकांड पर मधुबनी में गुस्‍से का उबाल, ट्रेनें रोकींUpdated: Sun, 10 Sep 2017 09:59 PM (IST)

गुरुग्र्राम में हुए प्रद्युम्न हत्याकांड के खिलाफ लोगों में उबाल है।

मधुबनी। गुरुग्र्राम में हुए प्रद्युम्न हत्याकांड के खिलाफ लोगों में उबाल है। रविवार को मांगों के समर्थन में तख्तियां लिए बड़ा गांव (मधुबनी, बिहार) के लोगों ने वरुणचंद्र ठाकुर (प्रद्युम्न के पिता) के निवास स्थल से जुलूस की शक्ल में गांव का भ्रमण किया।

इसके बाद पंडौल स्टेशन पर जाकर करीब 15 मिनट तक जयनगर-दानापुर इंटरसिटी एक्सप्रेस व सवारी गाड़ी को रोका। आंदोलन का नेतृत्व कर रहे मुन्ना सिह ने कहा कि यह जघन्यतम वारदात है।

इसकी जितनी निदा की जाए कम है। घटना से बड़ा गांव के लोगों को गहरा आघात लगा है। लोगों ने कहा कि हरियाणा सरकार इस कांड की सीबीआइ जांच कराए।

स्कूल की मान्यता रद करे, दोषियों को फांसी की सजा हो। स्थानीय विधायक समीर कुमार महासेठ ने भी ग्रामीणों से मुलाकात कर दुख प्रकट किया।

ग्रामीणों ने बताया कि प्रद्युम्न त्योहारों में पिता के साथ घर आता था। वह सदा हंसता ही रहता था। इससे लोग उसके प्रति आकर्षित हो जाते थे। उसकी हत्या ने गांव के लोगों को झकझोर कर रख दिया है।

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.