यूपीएससी टॉपर्स की कहानी, उन्हीं की जुबानीUpdated: Wed, 11 May 2016 12:12 PM (IST)

यूपीएससी-2016 के परिणाम जारी होने के बाद कामयाब छात्रों की किस्से चर्चा में हैं।

मल्टीमीडिया डेस्क। यूपीएससी-2016 के परिणाम जारी होने के बाद कामयाब छात्रों की किस्से चर्चा में हैं। सभी जानना चाहता है कि इन्होंने किस फॉर्मूले पर काम करते हुए सफलता हासिल की। किस-किस तरह के त्याग करने पड़े? कितनी मेहनत करना पड़ी? एक नजर सफलता पाने वाले छात्रों की कहानी पर -

...जब UPSC टॉपर टीना डाबी बोलीं- 'मेरेे पास मां है'

यूपीएससी रीक्षा में पहले ही प्रयास मे टॉप करने वाली टीना डाबी की जुबां मे सफलता की कहानी मेंं सबसे अहम किरदार उनकी मां हेमाली डाबी का था। भोपाल से संबंध रखने वाली 22 साल की टीना की नजर अब हरियाणा कैडर पर है और इसके पीछे का एकमात्र उद्देश्य वहां लैंगिक असमानता व महिला सशक्तीकरण के मोर्चे पर काम करना है।

वाराणसी की आर्तिका शुक्‍ला ने यूं पाई चौथी रैंक

आर्तिका ने नई दिल्‍ली के मौलाना आजाद मेडिकल कॉलेज से 2013 में एमबीबीएस किया। उसके बाद चंडीगढ़ के एसजीपीजीआई में एमडी पीडियाट्रिक्‍स कोर्स में एडमिशन लिया। उन्‍होंने अपना एमडी कोर्स नवंबर 2014 में छोड़ दिया। यह छोड़ने से पहले उसने अपने बड़े भाई उत्‍कर्ष शुक्‍ला की सलाही ली जो कि इंडियन रेलवे ट्रेफ‍िक सर्विस में ऑफ‍िसर है। वह अपने भाई को प्रेरणा का स्‍त्रोत मानती हैं।

UPSC कामयाबी के लिए जॉब तो किसी ने छोड़ा घर

अंशुल कहते हैं इंदौर के पोहे-जलेबी खाकर बड़ा हुआ हूं तो अपने शहर की हर बात याद आना लाजमी है। मेरी स्कूली शिक्षा सराफा विद्या निकेतन से हुई है। मुझे बहुत अच्छी तरह याद है कि जब 8वीं में शहर में मेरी फर्स्ट रैंक आई थी तो मेरी जिंदगी का पहला इंटरव्यू मैंने नईदुनिया को ही दिया था।

पानीपत के बहन-भाई का जलवा

कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती। यह बात पानीपत की समालखा निवासी शालिनी और उनके भाई आलेख दूहन ने साबित कर दी है। भाई-बहन ने लोकसेवा आयोग की परीक्षा में एक साथ सफलता हासिल कर नायाब उदाहरण प्रस्तुत किया है। बहन को जहां 21वां स्थान प्राप्त हुआ है, वहीं भाई को 483वां। दोनों का ऐच्छिक विषय भी एक है।

कश्मीरी युवाओं के लिए काम करना चाहते हैं अतहर

सिविल सेवा परीक्षा में दूसरा स्थान हासिल करने वाले दक्षिण कश्मीर में अनंतनाग जिले के 23 वर्षीय अतहर आमिर उल शफी कश्मीर के युवाओं के लिए काम करना चाहते हैं।

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.