राम रहीम केस : हरियाणा ने पंजाब से मांगे फरार पांचों पुलिस कर्मीUpdated: Fri, 06 Oct 2017 09:27 PM (IST)

गिरफ्तारी के पहले हनीप्रीत सबसे अधिक दस दिन पंजाब में रही। हरियाणा पुलिस ने हनीप्रीत के उन सभी ठिकानों का पता लगा लिया है,

चंडीगढ़। गिरफ्तारी के पहले हनीप्रीत सबसे अधिक दस दिन पंजाब में रही। हरियाणा पुलिस ने हनीप्रीत के उन सभी ठिकानों का पता लगा लिया है, जहां-जहां वह रुकी थी। फिलहाल पुलिस इन ठिकानों के नाम सार्वजनिक नहीं कर रही है।

हरियाणा पुलिस ने पंजाब से उन पांच कर्मचारियों को सौंपने का आग्रह किया है, जो पेशी के दिन एक जिप्सी में आए थे। इस जिप्सी में पंजाब पुलिस के आठ जवान थे, जिनमें से तीन को हरियाणा पुलिस पकड़ चुकी है और पांच जवान फरार हैं।

इस जिप्सी पर हरियाणा की नंबर प्लेट थी, जो कि नकली निकली। जबकि वास्तविक नंबर पंजाब का है। पंचकूला में हुई हिसा के बाद से हरियाणा लगातार पंजाब की भूमिका पर सवाल उठा रहा है। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल और पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिदर सिंह इस मामले में जुबानी जंग में शामिल हो चुके हैं।

ताजा विवाद हनीप्रीत की गिरफ्तारी से पहले उसके पंजाब में होने पर छिड़ा है। हरियाणा पुलिस अब तमाम वह तथ्य इकट्ठा कर रही है, जिनके आधार पर कहा जा सके कि गुरमीत की पेशी के दिन सबसे अधिक लोग पंजाब से आए थे। पंजाब सरकार ने उन्हें आने दिया था।

बठिंडा में नहीं रही हनीप्रीत - एसएसपी बठिडा

बठिंडा के आर्यनगर के एक मकान की जांच के बाद हनीप्रीत को लेकर पंचकूला पुलिस की एसआइटी के लौटते ही स्थानीय पुलिस भी एक्शन में आ गई है। गुरुवार शाम को ही बठिंडा के एसएसपी बठिंडा नवीन सिंगला ने उस मकान की जांच की, जहां हनीप्रीत के ठहरने की बात की जा रही है।

एसएसपी ने एसपी रैंक के एक अधिकारी के साथ आर्यनगर स्थित मकान का निरीक्षण किया। पंचकूला पुलिस ने उस मकान से कुछ सुबूत हाथ लगने की बात कही थी, लेकिन एसएसपी ने जांच के बाद कहा कि हनीप्रीत बठिंडा नहीं रुकी थी। उस मकान की हालत ऐसी नहीं है कि कोई 5-6 दिन उसमें रह सके।

पूछताछ में पता चला है कि करीब छह साल से वह मकान बंद पड़ा है। वहां बिजली और पानी की व्यवस्था नहीं है। छत पर पड़ी पानी की टंकी भी खाली है। टॉयलेट साफ नहीं हैं। एक कमरे में नाम चर्चा का सामान पड़ा है। एसएसपी ने कहा कि वापस जाते समय हरियाणा पुलिस ने कोई जानकारी शेयर नहीं की।

पंचकूला पुलिस की एसआइटी की जांच के बाद यह चर्चा है कि आर्यनगर के इस मकान से तीन मोबाइल मिले हैं। हालांकि अभी इस बात की पुष्टि नहीं है। कयास हैं कि यह वही सिम हो सकते हैं, जिनसे हनीप्रीत विदेश में फोन करती थी।

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.