इरा की फील्ड पोस्टिंग पर संदेहUpdated: Mon, 06 Jul 2015 09:57 AM (IST)

यूपीएससी-2014 की परीक्षा में जनरल कैटिगरी में टॉप करने वाली इरा को स्कोलियोसिस बीमारी है। उन्हें फील्ड पोस्टिंग मिलेगी या नहीं, यह स्‍पष्‍ट नहीं है।

नई दिल्ली। यूपीएससी-2014 की परीक्षा में जनरल कैटिगरी में टॉप करने वाली इरा को स्कोलियोसिस बीमारी है। इस वजह से वह लगभग 60 पर्सेंट डिसेबल हो गई हैं। ऐसे में उनका आईएएस बनना तो तय है, लेकिन उन्हें फील्ड पोस्टिंग मिलेगी या नहीं, यह स्‍पष्‍ट नहीं है।

हालांकि, डिपार्टमेंट ऑफ पर्सनेल ऐंड ट्रेनिंग के अनुसार, सिलेक्शन होने के बाद पोस्टिंग में कोई भेदभाव नहीं किया जाता है। मगर, अब तक जितने भी ऐसे उम्‍मीदवारों का चयन हुआ है, उन्हें फील्ड पोस्टिंग नहीं दी गई है। डीओपीटी के सूत्रों के अनुसार हाल के दिनों में ऐसी कई शिकायतें भी मिली हैं, जिनमें ऐसे अधिकारियों ने अपने साथ भेदभाव की शिकायत की है।

लंबी लड़ाइ लड़ी है इरा ने

इरा ने बताया कि 2010 में उन्होंने पहली बार यूपीएससी की परीक्षा दी और इसमें उन्हें 815 रैंक मिली। उन्हें भारतीय राजस्व सेवा अधिकारी बनने का अवसर मिला, लेकिन सभी औपचारिकताओं को पूरा करने के बाद भी उन्हें मेडिकल के स्तर पर अयोग्य करार दे दिया गया। इसके बाद उन्हें अपने साथ हुए इस अन्याय के खिलाफ सेंट्रल एडमिनिस्ट्रेटिव ट्रिब्यूनल (कैट) का रुख किया।

वहां से राहत पाकर हैदराबाद में राजस्व अधिकारी के लिए ट्रेनिंग कर रही हैं। इरा ने बताया कि 2012 में शुरू हुई इस लड़ाई का नतीजा वर्ष 2014 में मिला। इस दौरान उन्होंने 2012, 2013 में भी इस परीक्षा में सफलता पा ली। हर प्रयास में उन्‍होंने पहले की तुलना में ज्यादा बेहतर रैंक हासिल की।

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.