गीता पढ़ाने के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट जाएगा बोर्डUpdated: Mon, 08 Jun 2015 11:39 PM (IST)

जीलानी ने बताया कि पुरातत्व विभाग के आधीन दिल्ली की मस्जिदों में नमाज की इजाजत को दिल्ली हाई कोर्ट में भी याचिका दाखिल की जाएगी।

लखनऊ। मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड राजस्थान, हरियाणा व मध्य प्रदेश के स्कूलों में "गीता" पढ़ाने और "सूर्य नमस्कार" के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में और पुरातत्व विभाग के कब्जे वाली मस्जिदों में नमाज की इजाजत के लिए दिल्ली हाई कोर्ट में याचिका दाखिल करेगा।

रविवार को लखनऊ में मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड की कार्यकारिणी की बैठक में इस बात का भी फैसला किया गया था कि भाजपा का शासित जिन तीन राज्यों के स्कूलों के पाठयक्रम में "गीता" को शामिल किया जा रहा है, उनके खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की जाएगी।

यह याचिका 29 जून को राजस्थान हाई कोर्ट में दाखिल होने के बाद की जाएगी। बोर्ड की विधि कमेटी के मुखिया जफरयाब जीलानी ने बताया कि पुरातत्व विभाग के आधीन दिल्ली की मस्जिदों में नमाज की इजाजत के लिए दिल्ली हाई कोर्ट में भी याचिका दाखिल की जाएगी।


संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.