शिंजो आबे ने गंगा घाट पर ली मोदी संग सेल्फीUpdated: Sun, 13 Dec 2015 08:23 AM (IST)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ शनिवार को काशी आए जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने गंगा आरती के दौरान एक-एक पल का आनंद उठाया।

वाराणसी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ शनिवार को काशी आए जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने गंगा आरती के दौरान एक-एक पल का आनंद उठाया। खासबात यह रही कि गंगा आरती को देखने के दौरान खास मोदीकट जैकेट पहने जापान के प्रधानमंत्री शिंजो ने कई बार अपना मोबाइल को निकाल कर चेक किया।

एक बार जैसे ही मोदी की नजर उन पर पड़ी, झट से हंसते हुए उन्होंने फोन जेब में रख लिया। शिंजो ने आरती की फोटो भी अपने फोन से ली। उन्होंने एक वीडियो बनाकर मोदी को भी दिखाया। मोदी संग सेल्फी भी ली।

इससे पहले बाबतपुर एयरपोर्ट पर उनके आगमन से शुरू स्वागत का सिलसिला दशाश्वमेध घाट पर गंगा पूजन व आरती के दर्शन के साथ नदेसर कोठी में डिनर व लौटने तक जारी रहा।

दोनों प्रधानमंत्री जैसे ही दशाश्वमेध घाट पहुंचे, हर-हर महादेव की हर्षध्वनि से उनका स्वागत हुआ। यहां आचार्य चंद्रमौलि उपाध्याय सहित नौ पुजारियों ने उन्हें गंगा पूजन कराया। इसके बाद दोनों गंगा में बने मंच से आरती देखने के लिए बैठे।

नौ पुजारी, 18 देव कन्याएं और तीन डमरू वादकों ने जैसे ही आरती आरंभ की, मोदी ने झुककर शिंजो के कान में कुछ कहा और उसके बाद जैसे-जैसे देववाणी रस घोलने लगी, दोनों प्रधानमंत्रियों की हथेलियां बजने लगीं। मोदी बीच-बीच में काशी के महत्व को बताते रहे और शिंजो बड़े ध्यान से उन्हें सुनते रहे।

चेहरे पर भक्ति भाव देख लग रहा था कि तनाव भरी घड़ियों के बीच जिम्मेदारी निभाने वाले दोनों प्रधानमंत्री आज कितने सुकून में हैं।

इसके पहले शाम 4.25 बजे बाबतपुर एयरपोर्ट पहुंचे प्रधानमंत्रियों का उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने स्वागत किया। छात्राओं ने उन्हें चंदन का तिलक लगाया।

बौद्ध भिक्षुओं ने तिब्बती वाद्ययंत्र तुंगसेन का वादन कर शिंजो को मुग्ध कर दिया। एक ओर ढोल ताशे बज रहे थे तो दूसरी ओर मंच पर कथक, भरत नाट्यम की प्रस्तुति से शिंजो का स्वागत किया जा रहा था।

दशाश्वमेध घाट से लौटकर काफिला सीधे होटल गेटवे नदेसर पैलेस पहुंचा, जहां 69 गणमान्य मेहमानों के साथ उन्होंने रात्रि भोजन किया। रात्रि भोज में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव, राज्यपाल राम नाईक, मेयर रामगोपाल मोहले के अलावा भाजपा सांसद, उद्यमी, धर्मगुरु, मीडियाकर्मी आदि शामिल रहे।

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.