तस्लीमा नसरीन को पटना हाईकोर्ट से मिली बड़ी राहत, आपराधिक मामला रद्दUpdated: Thu, 12 Oct 2017 09:09 PM (IST)

धार्मिक कट्टरपंथियों के खिलाफ आवाज बुलंद करने वाली बांग्लादेश की मशहूर लेखिका तस्लीमा नसरीन को पटना हाई कोर्ट ने गुरुवार को बड़ी राहत दे दी।

पटना। धार्मिक कट्टरपंथियों के खिलाफ आवाज बुलंद करने वाली बांग्लादेश की मशहूर लेखिका तस्लीमा नसरीन को पटना हाई कोर्ट ने गुरुवार को बड़ी राहत दे दी। बिहार के बेतिया जिले की एक अदालत में उनके खिलाफ चल रहे आपराधिक मामले को अदालत ने निरस्त कर दिया है।

बेतिया के मुराद अली ने बेतिया (पश्चिम चंपारण) के मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी की अदालत में 24 मई 2012 को याचिका दायर की थी। अदालत ने तस्लीमा के खिलाफ भारतीय धारा 292 ए, 298, 500 एवं 504 के तहत संज्ञान ले लिया था।

परिवाद में मुराद अली ने कहा था कि 23 अक्टूबर 2011 को तस्लीमा ने ट्वीट कर मुस्लिम धर्म में आस्था रखने वालों को आघात पहुंचाया। निचली अदालत के खिलाफ तस्लीमा हाई कोर्ट पहुंची थीं।

न्यायाधीश अरुण कुमार की पीठ ने सुनवाई की। इसके बाद निचली अदालत के आदेश को निरस्त कर दिया।

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.