चीन सीमा पर तैनात होगी हेलीकॉप्टर यूनिटUpdated: Tue, 21 Mar 2017 09:11 AM (IST)

जल्द ही वायुसेना की हेलीकॉप्टर यूनिट उत्तरकाशी में तैनात कर दी जाएगी।

शैलेंद्र गोदियाल, उत्तरकाशी। चीन के साथ रिश्तों में उतार-चढ़ाव के बीच भारत ने अपनी सीमाओं को अभेद्य बनाने की कवायद शुरू कर दी है। जल्द ही वायुसेना की हेलीकॉप्टर यूनिट उत्तरकाशी में तैनात कर दी जाएगी। इसके तहत सोमवार को वायुसेना, सेना और भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आइटीबीपी) के अधिकारियों ने इनर लाइन में आने वाले हर्षिल क्षेत्र का निरीक्षण किया।

उत्तराखंड में 345 किलोमीटर लंबी सीमा चीन से सटी है। इसमें से 133 किलोमीटर उत्तरकाशी जिले में है। सीमा पर सुरक्षा की जिम्मेदारी आइटीबीपी के पास है। सामरिक दृष्टि से संवेदनशील इस जिले में लंबे समय से सीमा सुरक्षा को मजबूत करने की दिशा में कार्य किया जा रहा है। वर्ष 2013 में वायुसेना ने उत्तरकाशी के पास चिन्यालीसौड़ हवाई पट्टी पर परीक्षण उड़ान भरी थी।

उस वक्त यहां पहली बार एयरफोर्स का सीजे-हरक्यूलिस विमान उतारा गया। बीते वर्ष सितंबर 2016 में पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में सर्जिकल स्ट्राइक के बाद से सीमा पर चौकसी बढ़ा दी गई है। इसके तत्काल बाद आइटीबीपी ने सीमा पर नेलांग, नागा और सोनम चौकियों पर युद्धाभ्यास भी किया था। नवंबर 2016 में तत्कालीन थल सेनाध्यक्ष जनरल दलवीर सिंह सुहाग ने उत्तरकाशी पहुंचकर चीन सीमा का हवाई निरीक्षण भी किया था।

रविवार को सैन्य अधिकारियों के संयुक्त दल ने चिन्यालीसौड़ में बैठक की।

सूत्रों के अनुसार बैठक में गोरखपुर में तैनात वायुसेना की 105-हेलीकॉप्टर यूनिट के विंग कमांडर प्रणव कुमार भी मौजूद थे। इस दौरान यहां हेलीकॉप्टर यूनिट स्थापित करने पर मंथन किया गया। सोमवार सुबह सैन्य अफसरों ने चिन्यालीसौड़ हवाई पट्टी का निरीक्षण किया और इसके वे बाद हर्षिल पहुंचे। वहां हेलीपैड का जायजा लेने के साथ ही संचार और चिकित्सा सुविधाओं के बारे में भी जानकारी जुटाई गई। उत्तरकाशी के जिलाधिकारी डॉ. आशीष श्रीवास्तव ने बताया कि सेना ने इस बारे में स्थानीय प्रशासन को सूचना दे दी थी।

चमोली में होती रही है चीनी सेना की घुसपैठ

उत्तराखंड के चमोली जिले में चीनी सेना की घुसपैठ के मामले सामने आते रहे हैं। जुलाई 2016 में बाराहोती क्षेत्र में चीनी हेलीकॉप्टर भारतीय सीमा में घुस आया और करीब पांच मिनट मंडराता रहा। उसी माह क्षेत्र के निरीक्षण पर गई राजस्व टीम से भी चीनी सैनिकों का सामना हुआ था। इसकी रिपोर्ट केंद्र सरकार को भी भेजी गई थी।

अटपटी-चटपटी

  1. जॉब के लिए नहीं डेटिंग के लिए बनाया मजेदार रिज्यूमे, जरा देखिए

  2. कार पर 100 पाउंड की 26 टिकट लगाई, जुर्माना कार से 20 गुना हुआ ज्यादा

  3. मालिक ने लावारिस छोड़ दिया था लेकिन ये डॉगी अब कर रहा है जॉब

  4. रातों-रात अंबानी-बिड़ला से ज्यादा धनवान हो गया यह शख्स, जानिए कैसे

  5. 18 साल बाद मिले मां-बेटे, दे बैठे एक-दूसरे को दिल

  6. 84 साल में पीएचडी करने वाले बुजुर्ग का नाम गोल्डन बुक में दर्ज

  7. मछली पकड़ने के लिए तालाब में फेंका जाल, आ गया मगरमच्छ

  8. मुफ्त इलाज करने वाले डॉक्टर ने खाया धोखा, खुद को नहीं बचा सका

  9. चुप हो जा बेटी, परीक्षा दे रही हूं, पढ़ लूंगी तो तुझे भी पढ़ाऊंगी

  10. ग्रेजुएट पत्नी ने पति को यूं बनाया साक्षर

  11. जिराफ जैसा बनने के लिए गर्दन में डाले छल्ले, लेकिन फिर हुआ ऐसा

  12. जमीन पर गिरा खाना 5 सेकेंड में उठाकर खाएं तो नहीं है नुकसान

  13. OMG! अपनी सुंदर बीवियों को कुरूप बना देते हैं यहां के लोग

  14. इन सवालों से पता चल जाएगा, कहीं एडल्ट फिल्मों के एडिक्ट तो नहीं

  15. फोटो शूट के दौरान ट्रैक में फंसी मॉडल, चली गई जान

  16. डॉगी से भी तेज नाक है इस करोड़पति महिला की, सूंघ लेती हैं कैंसर

  17. यह कैसी बीमारी: मॉडर्न घर से एलर्जी, अब झोपड़ी में आशियाना

  18. मां के शव के साथ कई दिनों भूखी-प्यासी रही तीन साल की बच्ची

  19. रेलवे ने नहीं दिया जुर्माना तो अदालत ने किसान के नाम कर दी ट्रेन

  20. FB पर अपनी मौत का लाइव प्रसारण करता रहा और देखती रही मंगेतर

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.