कार्ति चिदंबरम के खिलाफ मनी लॉड्रिंग का केस दर्जUpdated: Fri, 19 May 2017 09:05 PM (IST)

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री पी चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम के खिलाफ मनी लांड्रिंग का एक मामला दर्ज किया है।

नई दिल्ली। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री पी चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम के खिलाफ मनी लांड्रिंग का एक मामला दर्ज किया है। सीबीआइ द्वारा दर्ज भ्रष्टाचार के एक मामले के आधार पर शुक्रवार को उनके खिलाफ मनी लांड्रिंग का यह मामला दर्ज किया गया।

ईडी के सूत्रों ने कार्ति के अलावा आइएनएक्स मीडिया और इसके निदेशकों पीटर और इंद्राणी मुखर्जी के खिलाफ भी प्रवर्तन केस सूचना रिपोर्ट दर्ज की है। यह पुलिस एफआईआर के बराबर है। अधिकारियों ने बताया कि प्रवर्तन निदेशालय ने ही सीबीआइ को आइएनएक्स मीडिया द्वारा गैरकानूनी भुगतान किए जाने की जानकारी दी थी। इसके बाद सीबीआई ने एफआइआर दर्ज की। अब निदेशालय इस बात की जांच करेगा कि किस तरह से अपराध को अंजाम दिया गया और संभवतः आरोपियों की संपत्ति भी जब्त की जा सकती है।

सीबीआई ने मंगलवार को आइएनएक्स मीडिया से कथित रूप से कथित तौर पर रिश्वत लेने के आरोप में चार शहरों में कार्ति के आवास और दफ्तरों पर छापेमारी की थी। जांच एजेंसी ने उन पर आपराधिक साजिश रचने, धोखाधड़ी, अवैध तरीके से फायदा उठाने, सरकारी अधिकारी को प्रभावित करने और आपराधिक आचरण का आरोप लगाया है। कार्ति पर अपने पिता के केंद्रीय वित्त मंत्री रहते आइएनएक्स मीडिया (अब 9 एक्स मीडिया) को एक टैक्स जांच से बचाने के लिए रिश्वत लेने का आरोप लगाया गया है।

सीबीआई ने 10 लाख रुपये का वाउचर भी बरामद किया, जो कथित रूप से इस काम के बदले उन्हें दिया गया था। सीबीआइ द्वारा मामला दर्ज करने के दो दिनों बाद कार्ति लंदन रवाना हो गए। उनके पिता ने सरकार पर सीबीआइ और अन्य एजेंसियों के जरिये अपने बेटे को परेशान करने का आरोप लगाया है। उल्लेखनीय है कि आइएनएक्स मीडिया का संचालन पीटर मुखर्जी और उनकी पत्नी इंद्राणी मुखर्जी कर रहे थे। फिलहाल दोनों अपनी बेटी शीना बोरा की हत्या के आरोप में जेल में बंद हैं।

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.