Live Score

भारत 141 रन से जीता मैच समाप्‍त : भारत 141 रन से जीता

Refresh

शारीरिक संबंध नहीं बनने की पुष्टि के लिए पति करवा सकता है पत्नी की जांचUpdated: Sat, 10 Sep 2016 11:19 AM (IST)

शारीरिक संबंध नहीं बनने को आधार बनाकर फैमिली कोर्ट में याचिका दायर की गई थी।

मुंबई। क्या यह साबित करने के लिए कि पति-पत्नी के बीच कोई शारीरिक संबंध नहीं बने हैं और दोनों का तलाक हो सकता है, पत्नी का मेडिकल टेस्ट कराया जा सकता है? बॉम्बे हाईकोर्ट ने अपने एक फैसले में इसकी इजाजत दे दी है।

हाईकोर्ट ने इस संबंध में फैमिली कोर्ट के दिए आदेश को बहाल रखा है। शारीरिक संबंध नहीं बनने को आधार बनाकर फैमिली कोर्ट में याचिका दायर की गई थी। तब कोर्ट ने यह जांचने के लिए पत्नी के मेडिकल टेस्ट की अनुमति दी थी कि दोनों के बीच शारीरिक संबंध बने हैं या नहीं? इसके खिलाफ पत्नी ने बॉम्बे हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया था। अब हाईकोर्ट ने याचिका खारिज कर दी।

अमिताभ पूछ रहे आई फोन के बारे में!

यह है मामला

दिसंबर 2010 में इस जोड़े की शादी हुई थी। तब महिला की उम्र 33 वर्ष और पुरुष की उम्र 38 साल थी। यह दोनों की दूसरी शादी थी। 2011 में पति ने तलाक की अर्जी दी। फैमिली कोर्ट में सुनवाई के दौरान पत्नी ने दावा किया कि दोनों के बीच कई बार संबंध बने हैं। पति ने इसके उलट दलील दी और यहां तक कहा कि महिला शारीरिक संबंध बनाने में सक्षम ही नहीं है। इस पर फैमिल कोर्ट ने महिला के मेडिकल टेस्ट के आदेश दिए थे।

यह भी पढ़ें: पाकिस्तानी अखबार में ‘कश्मीर के शोले’, ऐसे किया कटाक्ष

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.