इन 5 आदतों के कारण हाथ से निकल न जाए जॉबUpdated: Wed, 17 May 2017 03:01 PM (IST)

यदि मैनेजमेंट क्षेत्र में करियर बनाना चाहते हैं, तो आप जानते ही होंगे कि जॉब इंटरव्यू के दौरान आपकी मैनेजमेंट स्किल्स को परखा जाएगा।

यदि मैनेजमेंट क्षेत्र में करियर बनाना चाहते हैं, तो आप जानते ही होंगे कि जॉब इंटरव्यू के दौरान आपकी मैनेजमेंट स्किल्स को परखा जाएगा। मगर जो बात कम ही लोग जानते हैं, वह यह कि रिक्रूटर आपकी बुरी आदतों पर भी नजर रखेंगे। दरअसल कुछ ऐसी आदतें हैं, जिनके चलते आपके हाथ से मोटी सैलरी वाली जॉब जा सकती है। तो बेहतर है कि आप इन आदतों को पहचान लें व इनसे दूर रहें।

काम टालना

भावी मैनेजर के रूप में आपको अपने सामने आने वाली हर चुनौती से दो-दो हाथ करने को तैयार रहना चाहिए। काम से दूर भागने और उसे कल पर टालने के बजाए आपका प्रयास होना चाहिए कि उस काम को तत्काल हाथ में लें और तय समय-सीमा में उसे पूरा करें। जॉब इंटरव्यू के दौरान आपके अकेडमिक रेकॉर्ड को देखकर इंटरव्यूअर पता करेंगे कि आप समय पर काम करते हैं या नहीं। इसलिए एमबीए के दौरान मिलने वाले सारे असाइनमेंट समय से पूरे करें। आपके प्रोफेसरों द्वारा ऑन-टाइम कंप्लीशन संबंधी रिमार्क्स जॉब इंटरव्यू के दौरान आपके काम आएंगे।

सोशल मीडिया पर समय की बर्बादी

सोशल मीडिया इक्कीसवीं सदी का एक ताकतवर हथियार है जो लोगों, ब्रांड्स आदि को आपस में जुड़ने, मार्केटिंग करने और अपना प्रमोशन करने का मौका देता है। मगर इसे आधुनिक सामाजिक रोग भी कहा जाता है। यह आपका बहुमूल्य समय खा जाता है, जिससे आप महत्वपूर्ण काम करने से वंचित रह जाते हैं। फेसबुक और लिंक्डइन के माध्यम से इंडस्ट्री से संबद्ध अन्य लोगों से जुड़ना अच्छी बात है लेकिन इस पर इतना समय जाया करना कि आपकी जिम्मेदारियों की उपेक्षा होने लगे, गलत है। आजकल नियोक्ता अपने भावी कर्मचारियों की सोशल मीडिया हैबिट्स पर निगाह रखते हैं। यदि आप सोशल मीडिया पर उल-जलूल पोस्ट्स में समय जाया करते

हैं, तो यह अच्छी नौकरी पाने की आपकी संभावनाओं को धूमिल कर सकता है।

कमजोर ईमेल

आजकल कॉर्पोरेट वर्ल्ड पूरी तरह ईमेल के जरिये ही संवाद करता है। इसलिए किसी भी भावी मैनेजर में अच्छी ईमेल स्किल्स होना बहुत जरूरी है। मैनेजमेंट के इस पक्ष को हल्का समझकर चलने की गलती न करें।

'बॉस इज ऑलवेज राइट'

इंटरव्यू के दौरान यह भी देखा जाता है कि आप जी-हुजूरी करने में यकीन रखते हैं या फिर जो सही समझते हैं, उसे बेबाकी से बयान करते हैं। इंटरव्यूअर जानबूझकर आपसे ऐसे सवाल पूछ सकते हैं, जिनके जवाब में आप उनसे उलट राय व्यक्त करें। ऐसा करके यह देखा जाता है कि क्या आपमें 'ना' कहने और असहमत होने की हिम्मत है।

धन का अपव्यय

किसी बिजनेस को लॉन्च करने में धन का क्या महत्व है, यह किसी से छिपा नहीं है। इस धन को सही तरीके से खर्च करने का हुनर आना जरूरी है। जरा-सा भी अपव्यय आपकी सारी योजनाओं पर पानी फेर सकता है। कंजूस होना कोई अच्छा गुण नहीं माना जाता लेकिन मितव्ययी होना किसी भी बिजनेस ऑर्गनाइजेशन में पसंद किया जाता है।

अटपटी-चटपटी

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.