वीडियो : युद्ध का प्रशिक्षण दे रहे सेना के हवलदार की ग्रेनेड फटने से मौतUpdated: Fri, 21 Apr 2017 03:59 PM (IST)

ग्रेनेड फटने से कमांडो कोर्स ट्रेंड हवलदार बकुलसिंह की घटना स्थल पर ही मौत हो गई। वहीं दो अन्य सैनिक घायल हो गए।

सागर। महार रेजिमेंट की फायरिंग रेंज में शुक्रवार सुबह प्रशिक्षण के दौरान ग्रेनेड फटने से कमांडो कोर्स ट्रेंड हवलदार बकुलसिंह की घटना स्थल पर ही मौत हो गई। वहीं दो अन्य सैनिक घायल हो गए, जिन्हें एमआरसी के हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया।

घटना की जानकारी लगते ही कैंट पुलिस ने महार रेजिमेंट के अधिकारियों के साथ घटना स्थल का मुआयना किया। कर्नल भूपेंद्र सिंह ने बताया कि बकुल सिंह ग्रेनेड व डेटोनेटर को लांच करने का प्रशिक्षण दे रहे थे। तेज गर्मी के कारण ग्रेनेड ने चाल पकड़ ली और ब्लास्ट हो गया।

अधिकारियों के मुताबिक नए रिक्रूट हुए सैनिकों को प्रशिक्षण दिया जा रहा था। शुक्रवार की सुबह बैटल इंक्लीनेशन के बारे में बताया जाना था, यानी युद्ध के दौरान सैनिकों को युद्ध क्षेत्र में कैसे और क्या करना चाहिए। इसी के तहत हवलदार नए सैनिकों को ग्रेनेड व डेटोनेटर के उपयोग की जानकारी दे रहे थे।

हवलदार बकुल सिंह के पास दो अन्य रिक्रूट भी मौजूद थे। अचानक ग्रेनेड फट गया, जिससे बकुल सिंह ने घटना स्थल पर ही दम तोड़ दिया। वहीं साथ में खड़े एक सैनिक का एक हाथ अलग हो गया। दूसरे सैनिक के मुंह, सीने के साथ शरीर में कुछ चोटें आई है। 40 वर्षीय बकुल सिंह मूल रूप से गुजरात के निवासी थे। 19 साल की नौकरी के बाद वह अगले माह सेना की नौकरी से सेवानिवृत्त होना चाह रहे थे।

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.