शादी के दो माह बाद युवती ने ससुराल में फांसी लगाईUpdated: Sun, 19 Mar 2017 08:37 PM (IST)

शादी के दो माह बाद एक युवती ने नामली थाना क्षेत्र के ग्राम हतनारा में स्थित ससुराल में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

रतलाम। शादी के दो माह बाद एक युवती ने नामली थाना क्षेत्र के ग्राम हतनारा में स्थित ससुराल में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। वह बीकाॅम की छात्रा थी। मायके पक्ष ने ससुराल पक्ष में पढ़ाई छोड़ने के लिए दबाव बनाने और उनकी बेटी की जान लेने का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग की है। युवती की मौत के कारणों का पता नहीं चला है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

ससुराल पक्ष के अनुसार ग्राम बरबोदना निवासी पूजा पिता मोहनलाल पाटीदार (19) का विवाह 17 जनवरी 2017 को ग्राम हतनारा निवासी अम्बाप्रसाद पाटीदार पिता रामचंद्र पाटीदार से हुआ था। पिछले दिनों पूजा मायके चली गई थी। तीन-चार दिन पहले ही मायके से ससुराल आई थी।

रविवार सुबह उसका भाई राकेश उससे मिलने आया था। पूजा का पति अम्बाप्रसाद मां को लेकर रिश्तेदार से मिलने ग्राम कनवास चला गया था। भाई भी कुछ समय बाद बरबोदना के लिए रवाना हो गया था। इसके बाद पूजा अपने कमरे में चली गई थी। परिजन समझे की वह सो रही होगी।

कुछ देर बाद किसी परिजन ने पूजा को आवाज लगाई लेकिन आवाज नहीं आई। दरवाजा थपथपाने पर भी नहीं खोला गया। कमरे के आगे व पीछे का दरवाजा अंदर से बंद था। शंका होने पर किसी ने कमरे में झांककर देखा तो वह फांसी पर लटकी हुई थी। ससुर खेत में काम कर रहे थे।

शोर सुनकर वे भी मौके पर पहुंचे। इसके बाद दरवाजा खोलकर उसे फंदे से उतारकर दोपहर करीब ढाई जिला अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित किया। मायके व ससुराल पक्ष के लोग अस्पताल में जमा हुए। इस दौरान मायके पक्ष के लोग ससुराल पक्ष पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग करने लगे।

उनका कहना था कि वह पढ़ाई कर रही थी और ससुराल पक्ष पढ़ाई छुड़वाना चाहता था। पूजा पर पढ़ाई छोड़ने के लिए दबाव बनाया जा रहा था। दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। नायब तहसीलदार घनश्याम लुहार और पुलिसकर्मियों ने निष्पक्ष जांच का आश्वासन देकर परिजन को शांत किया। देर शाम पोस्टमार्टम के बाद शव मायके पक्ष को सौंपा गया।

अटपटी-चटपटी

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.