Live Score

भारत 5 विकेट से जीता मैच समाप्‍त : भारत 5 विकेट से जीता

Refresh

शारीरिक शोषण के मामले में युवक को दस साल की कैदUpdated: Thu, 27 Apr 2017 09:46 PM (IST)

पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर अभियुक्त हुकमसिंह को गिरफ्तार कर लिया था। प्रकरण में शासन की तरफ से पैरवी उप संचालक अभियोजन एसके जैन ने

रतलाम। न्यायालय ने किशोरी का शारीरिक शोषण करने के मामले में अभियुक्त हुकमसिंह पिता भुवानसिंह (22) निवासी ग्राम नेगरून थाना ताल को लैंगिक अपराधों से बालकों का संरक्षण अधिनियम की धारा 5 (एल) सहपठित धारा 6 के तहत दस वर्ष के सश्रम कारावास की सजा सुनाई।

उस पर एक हजार रुपए का जुर्माना भी किया गया। फैसला गुरुवार को लैंगिक अपराधों से बालकों का संरक्षण अधिनियम के विशेष न्यायाधीश मृत्युंजयसिंह ने सुनाया।

अभियोजन के अनुसार 16 वर्षीय किशोरी 16 अप्रैल 2014 की रात घर पर बगैर बताए कहीं चली गई थी। खोजबीन के बाद भी नहीं मिलने पर उसके भाई ने दूसरे दिन ताल थाने में गुमशुदगी दर्ज कराई थी।

उसे अभियुक्त हुकमसिंह शादी करने का झांसा देकर मंडलिया (राजस्थान) ले गया था। वहां किसी महाराज के यहां उसे चार-पांच दिन रखा और फिर वहां से उसे भीलवाड़ा ले गया था।

भीलवाड़ा में उसे किराये का मकान लेकर रखा और रोज उससे शारीरिक बनाता रहा और उसे धमकी दी की किसी को बताना मत, नहीं तो ठीक नहीं होंगा। उसने किशोरी से यह भी कहा कि वह उससे शादी कर लेगा, चिंत मत कर।

भीलवाड़ा में ही उसने किशोरी की उम्र 19 वर्ष बताकर उसका आधार कार्ड भी बनवा दिया था। जबकि किशोरी उस समय 16 वर्ष की ही थी। उसने किशोरी से यह भी कहा था कि कोई पूछे तो उम्र 19 वर्ष ही बताना।

10 सितंबर 2014 को किशोरी मौका पाकर वहां से भाग कर ट्रेन से जावरा और फिर रतलाम पहुंची। इसके बाद थाने जाकर उसने पुलिस को पूरी जानकारी दी थी।

पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर अभियुक्त हुकमसिंह को गिरफ्तार कर लिया था। प्रकरण में शासन की तरफ से पैरवी उप संचालक अभियोजन एसके जैन ने की।

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.