शोपियां में पाक गोलाबारी में मप्र का भी सपूत शहीदUpdated: Sun, 13 Aug 2017 12:19 AM (IST)

शहीद की पहचान 15 महार रेजिमेंट के जेसीओ नायब सूबेदार जगराम सिंह तोमर, निवासी गांव तारसाना, जिला मुरैना, मप्र के रूप में हुई है।

श्रीनगर/मुरैना। जम्मू-कश्मीर के पुंछ सेक्टर में शनिवार को पाकिस्तानी सेना की गोलाबारी में सेना का जवान शहीद हो गया और एक महिला की मौत हो गई। एक अन्य जवान घायल हुआ है। शहीद की पहचान 15 महार रेजिमेंट के जेसीओ नायब सूबेदार जगराम सिंह तोमर के रूप में हुई जो मध्यप्रदेश के मुरैना जिले के गांव तारसाना के निवासी थे।

इस बीच दक्षिण कश्मीर के शोपियां जिले में आतंकियों के साथ मुठभेड़ में सेना के दो जवान शहीद हो गए। तीन अन्य जवान घायल हुए हैं।

सेना के प्रवक्ता के अनुसार शाम 5 बजे कृष्णा घाटी सेक्टर में सीमा पार से दागे गए स्नाइपर शॉट में सेना का एक जेसीओ शहीद व एक सिपाही घायल हो गया। भारतीय सेना ने भी पाक को मुंहतोड़ जवाब दिया। शहीद की पहचान 15 महार रेजिमेंट के जेसीओ नायब सूबेदार जगराम सिंह तोमर के रूप में हुई है। वहीं घायल सिपाही मोहित कुमार है।

शहीद के पार्थिव शरीर को सेना के अस्पताल में भेज दिया गया, जबकि घायल को 150 जनरल अस्पताल राजौरी रेफर कर दिया गया है। इसके पहले सुबह करीब 5.15 बजे पाक सेना ने मेंढर सेक्टर में आतंकियों के दल को भारतीय क्षेत्र में घुसपैठ कराने के लिए गोलाबारी की। भारत ने जब इसका जवाब दिया तो पाक ने ध्यान बंटाने के लिए रिहायशी क्षेत्रों में गोलाबारी शुरू कर दी। पाक सेना ने कई मोर्टार दागे, जो सीमांत क्षेत्रों में घरों व अन्य इमारतों पर गिरे। इस दौरान एक मोर्टार मेंढर के गोल्द गांव में मोहम्मद शाबिर घर के बाहर गिरा इससे वहां काम कर रही उनकी पत्नी राकिया बी मौत हो गई।

तलाशी अभियान के दौरान आतंकियों ने की गोलीबारी

दक्षिण कश्मीर के शोपियां जिले में आतंकियों के साथ मुठभेड़ में सेना के दो जवान शहीद हो गए। अवनीरा गांव में आतंकियों के होने की सूचना पर सुरक्षा बलों ने वहां तलाशी अभियान चलाया। तभी आतंकियों ने उन पर गोलियां चला दी। जवानों ने भी जवाब दिया तो मुठभेड़ शुरू हो गई। मुठभेड़ में 5 जवान घायल हो गए। उन्हें तुरंत सेना के अस्पताल ले जाया गया। वहां दो सैनिकों ने दम तोड़ दिया।

कश्मीर में सैन्य मुख्यालय पर आतंकी हमला, जवान जख्मी

उत्तरी कश्मीर में एलओसी से सटे कलारूस में शनिवार तड़के आतंकियों ने सेना की 41 आरआर के मुख्यालय पर हमला किया, जिसमें एक सैन्यकर्मी जख्मी हो गया। सेना ने आतंकियों को शिविर में घुसने नहीं दिया। आतंकियों ने तड़के करीब ढाई बजे जंगल के ऊपरी हिस्से में कलारूस स्थित 41 आरआर के शिविर पर तीन तरफ से हमला किया। जवानों ने जवाबी फायर कर उन्हें शिविर के बाहर ही रोक लिया। करीब दस मिनट तक दोनों तरफ से गोलियां चलीं और इसके बाद आतंकी भाग निकले।

उर, केरन (कुपवाड़ा) सेक्टर में शनिवार को एलओसी पर एक अग्रिम इलाके में बारूदी सुरंग विस्फोट में एक सैन्यकर्मी गंभीर घायल हो गया। घटना सुबह केरन सेक्टर में बलवीर पोस्ट के इलाके में हुई। घायल जवान का नाम राइफलमैन अक्षय कुमार है।

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.