पांच किमी दूर से पानी ढोने को मजबूर 450 की आबादी वाले गांव के लोगUpdated: Wed, 03 May 2017 03:20 PM (IST)

जिले के कुछ हिस्से में जहां मां नर्मदा मेहरबान है, वहीं आदिवासी अंचल में हालात बद से बदतर हैं।

फोटो : इसहाक पठान, भगवानपुरा

खरगोन। जिले के कुछ हिस्से में जहां मां नर्मदा मेहरबान है, वहीं आदिवासी अंचल में हालात बद से बदतर हैं। जिला मुख्यालय से करीब 50 किमी दूर भगवानपुरा विकासखंड की धरमपुरी पंचायत के मुवासमाल फलिया के लोग परिवार सहित बैलगाड़ी से पानी ढो रहे हैं।

450 आबादी वाले फलिए में पेयजल स्रोत नहीं होने से 5 किमी दूर पलासकूट पंचायत के हैंडपंप से पानी लाते हैं। हर परिवार की बैलगाड़ी पर पानी का ड्रम बंधा दिखाई दे जाता है। रात 12 बजे से ही ये लोग पानी के लिए निकल पड़ते हैं। पंचायत ने निर्मल नीर योजना अंतर्गत कुएं की मांग की है।

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.