एटीकेटी, फेल और गेप वाले विद्यार्थी नहीं लड़ सकेंगे चुनावUpdated: Tue, 10 Oct 2017 03:58 AM (IST)

छात्रसंघ चुनावों की घोषणा होने के साथ ही कॉलेजों में गतिविधियां तेज हो गई हैं। एटीकेटी, फेल और गेप वाले विद्यार्थी चुनाव नहीं लड़ सकेंगे।

खंडवा। छात्रसंघ चुनावों की घोषणा होने के साथ ही कॉलेजों में गतिविधियां तेज हो गई हैं। एटीकेटी, फेल और गेप वाले विद्यार्थी चुनाव नहीं लड़ सकेंगे। इसके साथ ही आरक्षण के चलते आधी कक्षा प्रतिनिधि छात्राएं होंगी। पदाधिकारियों के पदों पर आरक्षण के लिए लॉटरी से निर्णय होगा।

शहर के एसएन कॉलेज, जीडीसी सहित ग्रामीण क्षेत्रों में हरसूद, मूंदी और पंधाना में छात्रसंघ चुनाव होंगे। इसको लेकर जहां छात्र संगठन सक्रिय हो गए हैं, वहीं कॉलेज प्रशासन को उच्च शिक्षा विभाग के निर्देशों का इंतजार है। चुनाव के संबंध में अब तक कॉलेजों में निर्देश नहीं पहुंचे हैं।

पूर्व में प्राप्त निर्देशों में यह तय हो गया है कि कक्षा प्रतिनिधि सहित अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, सचिव और सह सचिव के पदों पर केवल वही विद्यार्थी चुनाव लड़ सकेंगे, जो नियमित विद्यार्थी हों और कभी फेल नहीं हुए हों। सेमेस्टर परीक्षा में एटीकेटी आने पर, कोर्स के दौरान गेप होने पर और अनुत्तीर्ण हो चुके विद्यार्थी चुनाव के लिए नामंकन दाखिल नहीं कर सकेंगे। कॉलेजों में 30 अक्टूबर को होने वाले चुनाव के लिए छात्र संगठनों ने तो विद्यार्थियों से संपर्क करने सहित अन्य चुनावी गतिविधियां तेज कर दीं हैं। विभागीय निर्देश के बाद प्रशासनिक प्रक्रिया शुरू हो सकेगी।

एसएन कॉलेज के डॉ. आरएस सलूजा ने बताया कि छात्रसंघ चुनाव में एटीकेटी, फेल और कोर्स के बीच गेप होने वाले विद्यार्थी चुनाव नहीं लड़ सकेंगे। उच्च शिक्षा विभाग से निर्देश मिलने के बाद प्रक्रिया शुरू की जाएगी।

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.