खाने का लालच देकर दो बहनों से आश्रम संचालक ने किया दुष्कर्मUpdated: Tue, 14 Nov 2017 11:18 AM (IST)

निशक्त आश्रम में मानसिक रोगी 13 साल की बालिका और उसकी 15 वर्षीय बहन के साथ दुष्कर्म का मामला सामने आया है।

पूनमचंद मालवीया

खंडवा, नईदुनिया प्रतिनिधि। स्टेडियम के पास सरकारी जमीन पर चार वर्ष से अवैध रूप से संचालित निशक्त आश्रम में मानसिक रोगी 13 साल की बालिका और उसकी 15 वर्षीय बहन के साथ दुष्कर्म का मामला सामने आया है। पुलिस ने 60 साल के आश्रम संचालक को गिरफ्तार कर लिया। सोमवार को कोर्ट ने उसे जेल भेज दिया।

पुलिस के अनुसार आरोपी पूनमचंद मालवीया निवासी मालवीया कॉलोनी लाल चौकी आश्रम में ही रहता है। रविवार रात उसने बालिका को अपने कमरे में बुलाया। जब वह नहीं आई तो अच्छा खाने का लालच दिया। इसके बाद बालिका उसकी बातों मे आ गई और कमरे में चली गई। कमरे में आरोपी ने उसके साथ दुष्कर्म किया। देर रात बालिका मौका देखकर आश्रम का पांच फीट का गेट फांदकर भाग निकली और कोतवाली पहुंची।

उसने एसआई सोनू सितोले को घटना से अवगत कराया। बालिका ने बताया कि तबेलेनुमा इस आश्रम में टीन शेड में पलंग रखे हुए हैं। यहीं पर हम रहते हैं। अंकल गंदे हैं। सितोले ने बताया कि आरोपी पूनमचंद पर 13 वर्षीय बालिका के साथ दुष्कर्म का प्रकरण दर्ज किया गया है। बड़ी बहन ने भी पुलिस को दुष्कर्म की बात बताई है। अस्पताल में दोनों बहनों के साथ मेडिकल में दुष्कर्म की पुष्टि हुई है।

नाम के आगे आरोपी लगाता है डॉक्टर

अधिकारियों के अनुसार आश्रम में मानसिक और निशक्त बालिका और महिलाओं को रखा जाता है। डरी-सहमी बालिकाओं ने बताया कि अच्छा खाने का लालच देकर अन्य बालिकाओं का भी शोषण किया जाता है। जानकारी के अनुसार मालवीया स्वयं के नाम के आगे डॉक्टर शब्द भी लगाता है। इसके साथ ही वह समय-समय पर आयोजनों के नाम पर शहर के प्रतिष्ठित लोगों से चंदा भी वसूलता था।

कार्रवाई की जाएगी

आश्रम में चल रही अवैध गतिविधियों का मामला संज्ञान में आया है। सरकारी जमीन पर बने आश्रम पर कार्रवाई की जाएगी। -अभिषेकसिंह, कलेक्टर

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.