श्रीधूनीवाले दादाजी आश्रम में लगेंगे सीमेंट के पोलUpdated: Fri, 11 Aug 2017 03:59 AM (IST)

वर्षों पुराने पड़ों को चिन्हित कर इन्हें गिराने के लिए भी कहा गया है ताकि भविष्य में किसी तरह की घटना ना हो।

खंडवा। श्रीधूनीवाले दादाजी दरबार में करंट लगने से सेवादार कैलाश उइके की मौत के एक माह बाद जिला प्रशासन ने आश्रम की व्यवस्थाओं में सुधार को लेकर सक्रियता दिखाई है।

गुरुवार को अनुविभागीय अधिकारी शाश्वत शर्मा द्वारा श्रीदादाजी धूनीवाला आश्रम ट्रस्ट को नोटिस दिया गया है। नोटिस में आश्रम के सेवादारों की सूची उपलब्ध कराने सहित व्यवस्थाओं में सुधार के निर्देश दिए गए हैं।

श्रीदादाजी दरबार में व्यवस्थाओं में सुधार के साथ ही ट्रस्ट को भंग करने की मांग को लेकर 8 अगस्त को सैकड़ों भक्तों ने रैली निकालकर कलेक्टर अभिषेक सिंह को ज्ञापन सौंपा था।

ज्ञापन में सेवादार कैलाश की करंट से मौत होने के मामले में एक माह बाद भी ट्रस्ट द्वारा गंभीरता नहीं दिखाए जाने की बात कही गई थी।

ज्ञापन सौंपने के दो दिन बाद गुरुवार को अनुविभागीय अधिकारी लोक न्यास शाश्वत शर्मा द्वारा ट्रस्ट को नोटिस जारी किया गया। इस नोटिस में सेवादारों के नाम-पते मोबाइल नंबर सहित उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए हैं।

साथ ही आश्रम में स्थित लोहे के विद्युत पोल हटाकर सीमेंटीकृत पोल लगाने के निर्देश दिए गए हैं। वहीं आश्रम परिसर में वर्षों पुराने पड़ों को चिन्हित कर इन्हें गिराने के लिए भी कहा गया है ताकि भविष्य में किसी तरह की घटना ना हो।

सेवादारों की सूची श्री पटेल सेवा समिति, श्रीदादाजी मंदिर व औषधालय निर्माण समिति इंदौर से शासन द्वारा मांगी गई है। दादाजी मंदिर ट्रस्ट और समितियों द्वारा सेवादारों की सूची तैयार की जा रही है।

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.