लड़कियों में क्रिकेट की प्रतिभा ढूंढने निकली हूंUpdated: Mon, 17 Apr 2017 03:57 AM (IST)

महिला क्रिकेट में मध्यप्रदेश का नाम रोशन करने वाली संध्या अग्रवाल ने रविवार को खंडवा में लड़कियों को क्रिकेट के गुर सीखाए।

खंडवा। महिला क्रिकेट में मध्यप्रदेश का नाम रोशन करने वाली संध्या अग्रवाल ने रविवार को खंडवा में लड़कियों को क्रिकेट के गुर सीखाए। एसएन कॉलेज मैदान पर छात्राओं को क्रिकेट की बारिकियां बताते हुए उन्होंने कहा कि क्रिकेट ने मुझे बहुत कुछ दिया है अब मैं क्रिकेट को कुछ देने की कोशिश कर रही हूं। लड़कियों में क्रिकेट की प्रतिभा ढूंढने निकली हूं। खेल के लिए समर्पित होकर उसमें अच्छा मुकाम हासिल किया जा सकता है।

क्रिकेटर संध्या के साथ देवी अहिल्या विश्वविद्यालय के फिजिकल एज्युकेशन डायरेक्टर डॉ. सुनील दूधाले व फिजिकल ट्रेनर शक्ति श्रीवास्तव भी खंडवा पहुंचे। एसएन कॉलेज, जीडीसी सहित स्कूली छात्राओं को यहां क्रिकेट का प्रशिक्षण दिया गया।

संध्या ने छात्राओं को बॉल को ग्रीप करना, बल्लेबाजी के दौरान खड़े होना, शॉट लगाना सहित अन्य टिप्स दिए। उन्होंने कहा कि कभी भी बड़ा खिलाड़ी बनने पर भी अपने घरेलू मैदान को नहीं भूलना चाहिए। मैं बचपन से इंदौर में अपने मैदान पर पानी छींटती रही, जब शतक बनाकर घर लौटी तो भी मैदान पर जाकर पानी छींटा। हमें खेल से लेने के साथ खेल को देना भी आना चाहिए।

इसके साथ ही कहा कि टेलीविजन पर मैच देखते समय खिलाड़ी की कला और शॉट खेलते के तरीकों का अवलोकन करें। उन्होंने एसएन कॉलेज व जीडीसी के खेल मैदान देखकर हर्ष जताया। इस दौरान महाराणा प्रताप क्रिकेट एकेडमी के अरुण सिंह मुन्ना, एसएन कॉलेज के खेल अधिकारी अमित अब्राहम सहित अन्य उपस्थित रहे।

अटपटी-चटपटी

  1. स्टेशन आते ही यात्री को अलार्म बजाकर उठाएगा रेलवे

  2. ममेरे भाई के प्‍यार में पति पर कर दिया जानलेवा हमला

  3. ग्रामीणों ने की शिकायत, कुछ के शौचालय चोरी, कुछ लापता

  4. राष्ट्रीय खिलाड़ी की फर्जी FB आईडी पर अश्लील फोटो, कोच निकला आरोपी

  5. दो व्यक्ति, एक अकाउंट नंबर, एक पैसा डालता दूसरा निकाल लेता

  6. 24 गांव में हेलिकॉप्टर से न्योता देंगे कम्प्यूटर बाबा

  7. वो दृष्टिहीन है और नाक से बांसुरी बजाकर कमाता है रोजीरोटी

  8. साहब! मेरे लिए कन्या ढूंढ़ दो, मुझे शादी करनी है

  9. डेढ़ साल का बेटा ढूंढ़ रहा मां को, बिलासपुर में पति को था इंतजार

  10. भागवत कथा सुनाकर मास्टर गरीब बच्चों के लिए जुटा रहे धन

  11. बेटे की कमी पूरी करने के लाते हैं घर जमाई

  12. दुनिया को दिव्यांगों का दम दिखाने, तालाब में खुद सीखा तैरना

  13. बेटे को किसान बनाने मां ने छोड़ी 90 हजार प्रतिमाह की नौकरी

  14. सोनू निगम को लेकर पोस्ट पर विवाद, चाकू से हमला

  15. मौत ने दूसरी बार दिया धोखा: पटरी पर लेटा, ड्राइवर ने रोकी ट्रेन

  16. पीएम को ट्वीट करने के बाद बैंक ने मानी गलती, लौटाए रुपए

  17. गाय के गोबर को बना दिया ड्राइंग रूम की शोभा, देशभर में मांग

  18. CGBSE 10th Result 2017 : बिना कोचिंग के विनीता बनीं टॉपर

  19. मिला सहारा तो लाचार जिंदगी की गाड़ी चल पड़ी खुशियों की राह

  20. पुलिस पीड़ा पर कांस्टेबल की कविता, मिले 25 हजार से ज्यादा लाइक्स

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.