18 जिलों के मीटर वाचक कामबंद हड़ताल परUpdated: Thu, 14 Sep 2017 01:27 AM (IST)

पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी में 17 वर्षों से काम करने वाले मीटर वाचकों को नियमित न कर फेडको कंपनी को ठेका दिए जाने के विरोध में जबलपुर एवं कटनी जिले के मीटर वाचक 5 जून 2017 से काम बंद हड़ताल पर हैं। लेकिन कंपनी प्रबंधन एवं प्रदेश शासन ने उनकी सुध तक नहीं ली। जबलपुर कटनी में जारी कामबंद हड़ताल एवं कंपनी प्रबंधन की शोषणकारी

जबलपुर। पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी में 17 वर्षों से काम करने वाले मीटर वाचकों को नियमित न कर फेडको कंपनी को ठेका दिए जाने के विरोध में जबलपुर एवं कटनी जिले के मीटर वाचक 5 जून 2017 से काम बंद हड़ताल पर हैं। लेकिन कंपनी प्रबंधन एवं प्रदेश शासन ने उनकी सुध तक नहीं ली। जबलपुर कटनी में जारी कामबंद हड़ताल एवं कंपनी प्रबंधन की शोषणकारी नीतियों के विरोध में पूर्व क्षेत्र कंपनी के सभी 18 जिलों के मीटर वाचक काम बंद हड़ताल पर चले गए हैं। पूर्व क्षेत्र कंपनी के तहत जबलपुर, कटनी, नरसिंहपुर, सागर, अनूपपुर, मंडला, शहडोल, डिंडौरी, सतना, सिंगरौली, सिवनी, पन्ना, छतरपुर, रीवा, बालाघाट, टीकमगढ़, सीधी, उमरिया जिले में काम बंद हड़ताल पर हैं। हड़ताल पर पूर्व क्षेत्र विद्युत मीटर वाचक कल्याण संघ के सुरेन्द्र लखेरा, रोहित पटेल, मनोज परौहा, विजय शंकर, संजय तंतुवाय, विनोद केवट, दामोदर गुप्ता, धर्मदास महार, अनुज श्रीवास्तव, मोहसिन अंसारी, सुरेन्द्र वर्मा आदि उपस्थित रहे।

फेडको कंपनी का ठेका निरस्त करने की मांग

जबलपुर। अखिल भारतीय ग्राहक पंचायत ने मप्र विद्युत वितरण कंपनी के एमडी मुकेश गुप्ता को ज्ञापन सौंपा। अध्यक्ष आनंद नेमा ने बताया कि विद्युत कंपनी द्वारा अनुबंधित फेडको कंपनी भारी एवं अनियमित बिल देकर तीन दिन में राशि जमा कराने की कार्रवाई कर रही है। जिसका अभा भारतीय ग्राहक पंचायत विरोध करते हुए कंपनी का ठेका निरस्त करने की मांग की है। इस अवसर पर सरला केवट, भवनेश्वरी खुरासिया, मंजू वैश्य, नवीन स्वामी, दुर्गेश सोनी, इंद्रा दुबे आदि उपस्थित रहे।

विद्यार्थियों के जाति प्रमाणपत्र स्कूल भजवाएं

मप्र प्रदेश तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ ने विद्यार्थियों के जाति प्रमाणपत्र स्कूल में भिजवाने की मांग की है। प्रांतीय सचिव रॉबर्ट मॉर्टिन ने बताया कि लंबे समय से कलेक्ट्रेट से किसी भी संकुल के तहत आने वाले स्कूलों में किसी भी विद्यार्थी का जाति प्रमाणपत्र बनकर नहीं आया है। जिससे छात्र-छात्राएं परेशान हो रहे हैं। अभिभावक स्कूलों को चक्कर काट रहे हैं। मांग करने वालों में योगेन्द्र दुबे, आशुतोष तिवारी, मीनूकांत शर्मा, जियाउर्रहीम, सुधीर उसरेठे, दुर्गेश पांडेय, विनोद सिंह आदि शामिल हैं।

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.