Live Score

भारत 5 विकेट से जीता मैच समाप्‍त : भारत 5 विकेट से जीता

Refresh

ज्यादा रेट पर मिली बीयर तो सीएम हेल्पलाइन पर कर दी शिकायतUpdated: Wed, 17 May 2017 01:42 AM (IST)

शराब दुकानों में निर्धारित रेटों से ज्यादा मूल्य पर बेची जाने वाली शराब के खिलाफ माइकल ने सीएम हेल्पलाइन में शिकायत कर दी।

जबलपुर। पुलिस का जिसको संरक्षण हो उसका कोई क्या बिगाड़ सकता है। ऐसा ही कुछ सिविल लाइंस क्षेत्र में रहने वाले माइकल जॉन (बदला हुआ नाम) के साथ हुआ। दरअसल शराब दुकानों में निर्धारित रेटों से ज्यादा मूल्य पर बेची जाने वाली शराब के खिलाफ माइकल ने सीएम हेल्पलाइन में शिकायत कर दी।

मामला ओमती क्षेत्र की एक शराब दुकान का है, जिसकी शिकायत माइकल ने बिना सबूतों के की थी। भोपाल से शिकायत ओमती थाने पहुंची, लेकिन पुलिस ने शराब ठेकेदार के साथ मिलकर ऐसी योजना बनाई, जिसमें माइकल ही उलझकर रह गया।

सूत्रों के अनुसार सिविल लाइंस निवासी माइकल जॉन ने एक सप्ताह पहले घंटाघर के पास स्थित अंग्रेजी शराब की दुकान से बीयर खरीदी। बीयर की बोतल में बिक्री रेट 160 रुपए लिखा था, लेकिन कर्मचारी ने माइकल से 170 रुपए लिए। माइकल मोबाइल पर फोटो लेकर सीएम हेल्पलाइन में निर्धारित मूल्य से अधिक पर बीयर बेचे जाने की शिकायत कर दी। दो दिन पूर्व माइकल के पास ओमती थाने से फोन आया जिसके बाद वह थाने पहुंचा।

पुलिस कर्मियों ने कार्रवाई के लिए पुख्ता सबूत होने की बात करते हुए माइकल से कहा कि तुम दोबारा उसी दुकान पर जाओ और इस बार रसीद या खरीदी के संबंध में लिखित पर्ची ले लो। रसीद न मिले फिर भी तुम दाम को लेकर कर्मचारियों से चर्चा करना पीछे से हम छापा मार देंगे और सबूत बनाकर कार्रवाई कर देंगे। माइकल ने काफी मना किया, लेकिन पुलिस ने दबाव बनाकर माइकल को शराब दुकान पर भेज दिया।

कर्मचारी ने बिना पूछे 160 रुपए काटे

पुलिस के कहने पर माइकल शराब की दुकान में पहुंचा। जहां उसने 200 रुपए देकर एक बोतल बीयर मांगी, लेकिन इस बार कर्मचारी ने बिना कुछ कहे 160 रुपए काटकर 40 रुपए माइकल को दे दिए। पीछे से पुलिस भी पहुंच गई। माइकल कुछ बोल पाता इससे पहले पुलिस के साथ दुकान के कर्मचारियों ने उसे खरी-खोटी सुनाना शुरू कर दिया।

माफी मांगकर भागा माइकल

बातें सुनने के बाद माइकल की समझ में आ गया कि उसकी शिकायत के बारे में पुलिस ने पहले ही दुकानदार को बता दिया था। पुलिस वालों ने माइकल की बीयर और 200 रुपए ये कहते हुए जब्त कर लिए कि उसने झूठी शिकायत की है, अब उसके ही खिलाफ ही उल्टी कार्रवाई होगी। माइकल घबरा गया, उसने अपने परिचित के एक वकील को बुलाया काफी मानमनौवव्ल के बाद माइकल माफी मांगकर घर लौट गया। वहीं, ओमती पुलिस ने ऐसी की घटना से इनकार किया है।

कई मामलों में हो चुकी है गड़बड़ी

ये इकलौता मामला नहीं है, जब सीएम हेल्पलाइन में शिकायत करने वालों के खिलाफ पुलिस और अन्य सरकारी विभाग इस तरह की गड़बड़ी कर चुके हैं। स्वच्छता अभियान को लेकर नगर निगम के सफाई ठेकेदारों की शिकायतों में ऐसे मामले सामने आ चुके हैं।

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.