चीनी सैनिक अनजाने में पार करते है सीमा : मनोहर पर्रिकरUpdated: Sun, 31 Jul 2016 11:25 PM (IST)

घुसपैठ की घटनाएं रोकने के लिए भारतीय सेना फायरिंग कर रही है। एलओसी पर 5 घुसपैठिए मारने में देश का एक जवान शहीद हो रहा।

जबलपुर। ब्यूरो। पाकिस्तानी सीमा पर घुसपैठ की घटनाएं रोकने के लिए भारतीय सेना फायरिंग कर रही है। एलओसी पर 5 घुसपैठिए मारने में देश का एक जवान शहीद हो रहा है। भारतीय सेना ने बीत एक साल में 76 घुसपैठियों को मारने में 14 जवान गवाएं हैं।

यह जानकारी रक्षा मंत्री पर्रिकर ने दी उन्होंने यहां पत्रकारों से चर्चा में कहा कि चीन के सैनिक अनजाने में लाइन ऑफ कंट्रोल को पार करके भारतीय सीमा में आते हैं, जिन्हें समझाइश देकर वापस भेज दिया जाता है। हालांकि इनके खिलाफ फायरिंग की कार्रवाई नहीं होती। दोनों देशों की सेना के बीच सामंजस्य बनने से ऐसी घटनाओं में 40 फीसद गिरावट आई है।

पर्रिकर ने कहा कि रक्षा क्षेत्र में सौ फीसद एफडीआई के बावजूद खरीदी पर कोई असर नहीं होगा। इसमें निर्माणी का वर्तमान का उत्पादन भी प्रभावित नहीं होगा। कोई नई तकनीक वाला उत्पादन करने के लिए उसमें 60 से 100 फीसद तक एफडीआई को मंजूरी दी गई है।

उन्होंने कहा कि एयरफोर्स का 10 दिन पहले लापता हुए विमान एएम-32 की तलाश 600 घंटे की जा चुकी है। इसमें अलग-अलग स्तर पर सेटेलाइट की मदद से लापता विमान खोजा गया, लेकिन सफलता नहीं मिली।

रक्षामंत्री पर्रिकर ने कन्हैया व आमिर खान का नाम लिए बिना कहा कि देश के प्रति श्रद्धा नहीं रखने वालों को जनता को सबक सिखाना चाहिए। देश का संविधान नहीं मानने और देश का बुरा चाहने वाले लोगों के खिलाफ देशप्रेमी जनता को चुप नहीं रहना चाहिए।

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.