पुलिस भर्ती परीक्षा फर्जीवाड़े में पकड़ा गया राहुल चार नौकरियों में हो चुका सिलेक्टUpdated: Fri, 05 Aug 2016 07:34 AM (IST)

सरकारी नौकरियों में सिलेक्शन होने के बाद युवक में इतना आत्मविश्वास आ गया कि वह दूसरे के बदले परीक्षा देने इंदौर आ गया।

राजेंद्र नगर के मुन्नाभाई, सिंकंदर, नरेश और राहुल।

इंदौर। दिल्ली में चार सरकारी नौकरियों में सिलेक्शन होने के बाद युवक में इतना आत्मविश्वास आ गया कि वह दूसरे के बदले परीक्षा देने इंदौर आ गया। उसके साथ एक और युवक गिरफ्तार हुआ है, जो इंदौर घूमने आया था। यह पूरी सेटिंग दिल्ली के मुखर्जी नगर की एक कोचिंग क्लास में हुई। पुलिस की टीम अब दिल्ली भी जाएगी।

राजेंद्र नगर पुलिस के अनुसार, आईपीएस कॉलेज में मध्य प्रदेश पुलिस आरक्षक भर्ती परीक्षा में पकड़े गए राहुल जाट (निवासी सोनीपत हरियाणा), नरेश जाट और सिकंदर से पूछताछ के लिए 9 अगस्त तक का रिमांड मिला है। राहुल और नरेश ने कबूला कि वे दिल्ली के मुखर्जी नगर की केडी कोचिंग क्लास में पढ़ते हैं। वहां नीरज नाम के दोस्त ने दोनों से मिलवाया था।

राहुल पढ़ाई में अच्छा है। वह दिल्ली पुलिस, सीआईएसएफ, बीएसएफ और एक अन्य की परीक्षा में सिलेक्ट हो चुका है। नरेश ने जब एमपी पुलिस का फॉर्म भरा तो नीरज और नरेश ने ही राहुल को परीक्षा देने के लिए तैयार कराया। सौदा एक लाख रुपए में तय हुआ। राहुल लालच में आकर परीक्षा देने आ गया।

इंदौर घूमने आया था और फंस गया

पुलिस ने इस केस में हरियाणा के सिकंदर नामक युवक को भी आरोपी बनाया है। सिकंदर नरेश के गांव का है। वह सिर्फ इंदौर घूमने के लिए आया था। 30 जुलाई को नरेश के बदले राहुल परीक्षा देने गया। हस्ताक्षर के दौरान उसने नरेश की जगह नरेंद्र लिख दिया। इससे परीक्षक को शक हुआ। उसने पुलिस को बुला लिया। जब राहुल को थाने लाए तो जानकारी सिकंदर को लगी तो वह भी थाने पहुंच गया। पुलिस ने उसे भी गिरफ्तार कर लिया। अभी तक की जांच में सिकंदर की कोई भूमिका सामने नहीं आई है।

दिल्ली जाएगी टीम

जांचकर्ता का कहना है कि पुलिस अब आरोपियों को लेकर दिल्ली के मुखर्जी नगर जाएगी। वहां कोचिंग संचालक से लेकर नीरज नामक छात्र से पूछताछ करेगी। पुख्ता साक्ष्य लगे तो नीरज को भी गिरफ्तार किया जाएगा।

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.