शादी से 9 दिन पहले बेटी जेवरात-नकदी लेकर गायब, पिता लगा रहा थानों चक्करUpdated: Wed, 15 Nov 2017 03:53 AM (IST)

शादी से महज 9 दिन पहले लड़की 80 हजार रुपए नकद 2.20 लाख रुपए के जेवरात लेकर अचानक गायब हो गई।

ग्वालियर। शादी से महज 9 दिन पहले लड़की 80 हजार रुपए नकद 2.20 लाख रुपए के जेवरात लेकर अचानक गायब हो गई। घटना 9 नवंबर की रात की है। जबकि 18 को उसकी शादी होना तय है। बेटी के गायब होने के बाद पिता थाने और एसपी ऑफिस के चक्कर लगा रहा है, लेकिन उसकी कोई नहीं सुन रहा। जिस लड़के पर संदेह है। उसके परिजन घर आकर धमका रहे हैं। मंगलवार को पीड़ित एसपी ऑफिस जनसुनवाई में पहुंचे। यहां एसपी डॉ. आशीष से शिकायत की है। जिस पर पुलिस ने तत्काल मामले को संज्ञान में लिया है।

गोला का मंदिर नारायण विहार कॉलोनी निवासी सीताराम पटेल पेशे से मजदूर है। बड़ी बेटी साधना (19) की शादी उसने यूपी के जालौन जिले में तय की। शादी तय करते समय बेटी की इच्छा को महत्व दिया और उससे पूछकर ही सब तय हुआ। 18 नवंबर को नारायण विहार कॉलोनी से ही साधना का विवाह होना था। अभी घर में शादी की तैयारियां चल रही थीं। पिता ने एक प्लॉट बेचकर 7 लाख रुपए जमा किए।

जिसमें बेटी के लिए जेवरात बनवाए। 9 नवंबर को जब परिवार के अन्य लोग अन्य तैयारियों का इंतजाम करने गए थे। तभी अचानक साधना गायब हो गई। परिजन घर लौटे तो वह कहीं नहीं मिली। कमरों में जाकर देखा तो उसके कपड़े नहीं थे। अलमारी खोली तो करीब 2.20 लाख के जेवरात, 80 हजा ररुपए नकद भी गायब थे। उन्हें समझते देर नहीं लगी कि वह किसी के बहकावे में आकर चली गई है।

पड़ोसी भी गायब, परिजन धमका रहे

बेटी के जाने के बाद जब पता किया तो सामने आया कि पड़ोस में रहने वाला रामू पुत्र मलखान सिंह गुर्जर भी उसी समय दिन से गायब है। जिससे साफ हुआ कि वह साधना को बहला-फुसलाकर अपने साथ ले गया है। जिसके बाद परिजन थाने पहुंचे तो वहां रामू के घर वाले पहुंच गए। 3 घंटे में लड़की को हाजिर करने की कहकर सीताराम को लौटा लाए। पर आज तक बच्ची नहीं लौटाई। अब परिजन थाने जाते हैं तो रामू के परिजन धमकाते हैं। पुलिस भी नहीं सुन रही। लड़के वालों को सब पता चल गया है उन्होंने रिश्ता तोड़ दिया।

चोर ले गए रिवाल्वर, जेवरात, पुलिस विवेचना नहीं कर रही

मंगलवार को जनसुनवाई में पहुंचे जनकगंज मोटे गणेश मंदिर के पास खासगी बाजार निवासी गोविंद मिश्रा ने जनसुनवाई में पहुंचकर शिकायत की है। उन्होंने बताया कि 13 अक्टूबर 2017 को उनके घर शाम 4.30 से 5 बजे के बीच चोर घर में दाखिल हुए। अलमारी खोलकर उनकी .32 बोर की रिवाल्वर व पत्नी के जेवरात समेटकर ले गए। तत्काल मामला दर्ज कराया। विवेचना जनकगंज थाना के एएसआई महेश यादव के पास है। पर वह इस मामले में रूचि नहीं ले रहे हैं। अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की है।

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.