निजी स्कूलों में पांचवीं तक की कक्षाएं सुबह नौ बजे से लगाने की तैयारीUpdated: Tue, 12 Sep 2017 08:44 PM (IST)

राज्य सरकार अब पहली से पांचवी तक की कक्षाएं सुबह नौ बजे से लगाने की तैयारी कर रही है।

भोपाल। राज्य सरकार अब पहली से पांचवी तक की कक्षाएं सुबह नौ बजे से लगाने की तैयारी कर रही है। स्कूल शिक्षा राज्यमंत्री दीपक जोशी ने इस संबंध में एक प्रस्ताव तैयार किया है, जिसे वे मुख्यमंत्री और स्कूल शिक्षा विभाग को सौंपने वाले हैं। दीपक जोशी के मुताबिक छोटे बच्चों को सुबह होने वाली परेशानी से बचाने के लिए यह प्रस्ताव बनाया गया है।

राज्यमंत्री दीपक जोशी के मुताबिक उन्होंने बताया कि सुबह सात बजे से स्कूल जाने के लिए बच्चों को बहुत जल्दी उठना पड़ता है। लिहाजा, स्कूलों का सिस्टम सुधारने और बच्चों का बचपन बचाने के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कुछ बदलाव करने के निर्देश दिए थे। इसके तहत यह योजना बनाई जा रही है। उन्होंने बताया कि यह व्यवस्था निजी स्कूलों व प्ले स्कूलों में लागू की जाएगी। सरकारी स्कूलों में पहली से पांचवी की कक्षाएं दोपहर की पाली में ही लग रही हैं। हालांकि कई सरकारी स्कूलों में भवनों की कमी से ये कक्षाएं सुबह भी लगती हैं।

निजी स्कूलों का विरोध, कहा- बस का किराया बढ़ेगा

सरकार के इस प्रस्ताव पर निजी स्कूलों ने विरोध दर्ज कराया है। प्रोग्रेसिव स्कूल एसोसिएशन के ओएसडी दिनेश वर्मा ने कहा कि इस फैसले से स्कूल बसों का किराया बढ़ेगा। अभी बसें सभी बच्चों को एक साथ लाती है। नौ बजे की कक्षा के लिए अलग से बसें लगानी होंगी, इससे अभिभावकों पर बस किराए का बोझ बढ़ेगा। सरकार अंतिम फैसला करने से पहले निजी स्कूलों की राय जरूर ले। वहीं जहां दो पालियों में स्कूल लग रहे हैं, उनकी व्यवस्था चौपट होगी।

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.