रिटायर्ड एडीओ को बेटे ने कैंची से गोदा, बचाने आई मां को मारी कैंचीUpdated: Thu, 18 May 2017 03:52 AM (IST)

वारदात बुधवार सुबह 7 बजे शहर के मीरा कॉलोनी इलाके की है।

भिंड। रिटायर्ड एडीओ (कृषि अधिकारी) पर पारिवारिक विवाद में छोटे बेटे ने कैंची से वार किए। बुजुर्ग के पेट और शरीर के कई हिस्सों में कैंची लगने से घाव हो गए।

बेटे के हमले से पति को बचाने आई आरोपी की मां के पेट में भी कैंची लगी, जिससे वे घायल हैं। वारदात बुधवार सुबह 7 बजे शहर के मीरा कॉलोनी इलाके की है।

घायल पति-पत्नी को मोहल्ले के लोगों ने इलाज के लिए जिला अस्पताल पहुंचाया। डॉक्टर ने रिटायर्ड एडीओ को एडमिट कर लिया है।

मेहंदा गांव हाल मीरा कॉलोनी निवासी शांति देवी (67) ने बताया कि बुधवार सुबह 7 बजे वे घर की दूसरी मंजिल पर थी। अचानक से पति राजेंद्र सिंह (70) पुत्र रामपाल सिंह कुशवाह के चीखने चिल्लाने की आवाज आई।

कुशवाह का कहना है कि वे नीचे कमरे में पहुंची तो छोटा बेटा मनोज उर्फ मुन्नी ने किसी बात पर पति पर वार किए थे। बीच-बचाव करने पर श्रीमती कुशवाह के पेट में भी कैंची लगी, जिससे वे घायल हो गईं। बेटे की हैवानियत से घायल बुजुर्ग पति-पत्नी को पड़ोस में रहने वाले सतीश पुत्र महेश सिंह राजावत जिला अस्पताल लेकर आए।

डॉक्टरों ने राजेंद्र सिंह कुशवाह को भर्ती कर लिया है। श्रीमती कुशवाह को भी पेट में चोट लगने पर इलाज दिया गया। पड़ोस के लोगों ने श्री कुशवाह के बेटे मनोज को मानसिक रूप से स्वस्थ्य नहीं बताया है।

बेटे के लिए तड़पा मां-पिता का दिल

कैंची से श्री कुशवाह के शरीर पर इतने वार हैं कि एक बार तो देखने वालों को भी लगा कि उन्हें बचाना मुश्किल होगा। मां श्रीमती कुशवाह भी घायल हैं। बेटे की हैवानियत से घायल होने के बावजूद दोनों का दिल आरोपी बेटे के लिए तड़पता लगा। पूछने पर श्री कुशवाह और उनकी पत्नी ने घटना तो बता दी, लेकिन उन्होंने डॉक्टरों से भी कहा कि बेटे पर कोई कार्रवाई नहीं चाहते हैं।

घायल बुुजुर्ग की हालत खतरे से बाहर है। हमला धारदार और नुकीले हथियार से हुआ है। बुजुर्ग को इलाज के लिए जिला अस्पताल में एडमिट किया गया है।

डॉ. देवेश शर्मा, आरएमओ, जिला अस्पताल भिंड

अटपटी-चटपटी

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.