20 मीटर दूरी पर सोता रहा पति, पत्नी की गला दबा कर दी हत्याUpdated: Sun, 16 Jul 2017 09:07 PM (IST)

घर के आंगन में पलंग पर पति सोता रहा और 20 मीटर दूर गोड़ा में पत्नी की गला दबाकर हत्या कर दी गई।

भिंड। घर के आंगन में पलंग पर पति सोता रहा और 20 मीटर दूर गोड़ा में पत्नी की गला दबाकर हत्या कर दी गई। वारदात देहात थाना क्षेत्र के बक्सीपुरा गांव में शनिवार रात 9 से 12 बजे के बीच हुई। देहात थाना टीआई शेर सिंह का कहना है घटनास्थल से महिला की टूटी हुई चूड़ियां मिली हैं। चेहरे पर भी चोट के निशान हैं।

पुलिस का कहना है महिला की हत्या में 2-3 लोग हो सकते हैं। पति का कहना है रात 12 बजे जागा तो पत्नी का शव देखा। इसके बाद मृतका के मायके पक्ष को सूचना दी गई। मृतका के भाई रात 3 बजे बक्सीपुरा गांव पहुंचे तब पुलिस को सूचना दी गई। था। पुलिस ने शव को पीएम के लिए भिजवाया, जिला अस्पताल में 3 डॉक्टरों के पैनल ने पीएम किया है।

देहात थाने के बक्सीपुरा गांव निवासी राजवीर नरवरिया और उनकी पत्नी निराशा (28) शनिवार रात 9 बजे घर के आंगन में पलंग बिछाकर बच्चों के साथ सोए थे। रात में करीब 12 बजे पति की आंख खुली तो पत्नी अपने पलंग पर नहीं थी। पुलिस का कहना है पति ने पत्नी को तलाश किया तो आंगन में बिछे पलंग से करीब 20 मीटर की दूरी पर गोड़ा में निराशा का शव पड़ा देखा। राजवीर ने अपने परिजन को बताया। जेठ भूरे नरवरिया ने रात 1:30 बजे निराशा के मायके बरोही थाने के बेंदीपुरा में फोन किया।

जेठ ने निराशा के भाई रुकुम सिंह को बताया कि आपकी बहन की किसी ने हत्या कर दी है। हत्या की बात सुनकर रात करीब 3 बजे मृतका के भाई रुकुम सिंह परिजन को साथ लेकर बक्सीपुरा गांव पहुंचे। मायके पक्ष से भाई और अन्य लोगों के आने के बाद देहात थाना पुलिस को सूचना दी गई। देहात पुलिस ने मौके पर पहंुचकर पड़ताल शुरू कराई और शव को पीएम के लिए भिजवाया। रविवार को जिला अस्पताल के 3 डॉक्टरों के पैनल ने पीएम किया।

इस हालत में मिला शव

देहात थाना टीआई शेर सिंह ने बताया पुलिस को बक्सीपुरा में निराशा का शव घर के बाहर गोड़ा में मिला है। गोड़ा से करीब 20 मीटर की दूरी पर आंगन में पति का पलंग बिछा था। इसके पास ही दूसरा पलंग बिछा था, जिस पर निराशा अपने छोटे बेटे छोटू के साथ सोई थी। पलंग से गोड़ा तक 20 मीटर की दूरी के बीच पुलिस को टूटी हुईं चूड़ियां मिली हैं, जो मृतका के हैं। मृतका के मुंह पर चोटों के निशान मिले। नाक के पास खून निकल रहा था। गला दबाकर हत्या की गई है।

2007 में हुई थी शादी

वर्ष 2007 में निराशा और राजवीर का विवाह हुआ था। निराशा और राजवीर के दो बच्चे हैं। बड़ा बेटा आशु (5) और छोटा बेटा छोटू (3) है। पुलिस का कहना है राजवीर मजदूरी करता है और शराब के नशे का आदी है। शनिवार को निराशा छोटे बेटे को साथ लेकर आंगन में बिछे पलंग पर सोई थी। पुलिस ने एफएसएल अधिकारी डॉ पी अजय सोनी को बुलाकर घटनास्थल का मुआयना किया।

पुलिस ने इसलिए मानी हत्या

बहन की हत्या की गई

निराशा के भाई रुकुम सिंह नरवरिया का कहना है शनिवार को रात में 1:30 बजे जेठ भूरे ने फोन कर बताया आपकी बहन को कोई मारकर डाल गया है। रुकुम का कहना है वे रात में 3 बजे बक्सीपुरा पहंुच गए। आंगन में राजवीर और निराशा के पलंग पास-पास बिछे थे। इन पलंग से कुछ दूरी पर ही निराशा की हत्या कर दी गई। भाई का कहना है चारपाई के पास में टूटी चूड़ी मिली हैं। रुकुम सिंह का कहना है बहन की हत्या की गई है। संघर्ष के निशान मिले हैं। चेहरे पर भी चोट के निशान हैं।

- पति के पलंग से करीब 20 मीटर की दूरी पर निराशा का शव मिला। पुलिस का कहना है ऐसा संभव नहीं है कि पति सोता रहा और पत्नी को कोई मारकर चला गया।

- आंगन में बिछे पलंग से लेकर शव वाले स्थान तक मृतका की टूटी हुई चूड़ियां पुलिस को मिली है। यानी मृतका को 2-3 लोग मुंह बंद कर ले गए। इस दौरान ही चूड़ियां टूटी हैं।

- मृतका के चेहरे पर चोट के निशान हैं। यह निशान उस वक्त बने होंगे जब बचने के लिए निराशा ने संघर्ष किया।

इनका कहना है

घर के पास गोड़ा में शव मिला है। पति ने घटना के बारे में अज्ञानता जताई है। प्रथम दृष्टया तो मामला हत्या का ही है। हत्या का सुराग लगाने महिला के पति और ससुराल वालों से पूछताछ करेंगे।

शेर सिंह, टीआई, थाना देहात

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.