बहू ने पहले चप्पलों से पीटा फिर गला दबाया, सास की मौतUpdated: Tue, 12 Sep 2017 09:17 PM (IST)

मकान के बंटवारे के विवाद में बहू ने सास को चप्पलों से पीटा और गला दबा दिया।

भिंड। मकान के बंटवारे के विवाद में बहू ने सास को चप्पलों से पीटा और गला दबा दिया। सास बेहोश होकर जमीन पर गिरी और दम तोड़ दिया। वारदात दबोह के वार्ड 4 में सोमवार रात करीब 8 बजे की है। आरोपी महिला के ससुर ने दबोह थाने पहुंचकर रिपोर्ट की। पुलिस ने आरोपी बहू को सास की गैर इरादतन हत्या के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है। दबोह टीआई कुशल सिंह भदौरिया का कहना है कि पिटाई से मृतका की आंख के पास और सिर में चोट आ गई थी।

बहू ने ऐसे ली सास की जान

दबोह थाना टीआई कुशल सिंह भदौरिया का कहना है कि कस्बे के वार्ड 4 निवासी रामसिया (62) रम्मू शाक्य की बड़ी बहू गुड्डन (30) पत्नी रामानंद शाक्य से मकान के बंटवारे को लेकर अक्सर विवाद होता रहता था। सोमवार रात को गुड्डन ने विवाद शुरू कर सास लक्ष्मी उर्फ लच्छोबाई (55) को पीटने लगी। टीआई का कहना है रामसिया अपनी पत्नी को बचाने पहंुचे तो बहू ने सास को छोड़ा और ससुर को पीटने लगी।

इस बीच सास लक्ष्मी बाई पति रामसिया को बचाने गईं तो बहू ने ससुर को छोड़ दिया और चप्पल से सास को पीटने लगी। पिटाई के दौरान बहू ने गुस्से में आकर सास का गला दबा दिया, जिससे वह बेहोश होकर जमीन पर गिर गईं। जमीन पर गिरने के बाद सास लक्ष्मीबाई ने दम तोड़ दिया।

पत्नी की मौत के बाद रामसिया दबोह थाने पहुंचे और बहू के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर सास लक्ष्मीबाई के शव को पीएम के लिए भिजवाया और बहू गुड्डन को गिरफ्तार कर गैर इरादतन हत्या का केस दर्ज किया। आरोपी बहू को पुलिस ने मंगलवार को कोर्ट में पेश किया, जहां से उसे जेल भिजवा दिया गया।

इनका कहना है

मारपीट के दौरान बहू के हाथों सास की मौत हुई है। सास पहले बेहोश होकर गिरी और फिर उन्होंने दम तोड़ दिया। आरोपी बहू को गिरफ्तार कर जेल भिजवाया गया है। कुशल सिंह भदौरिया, टीआई, थाना दबोह

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.