पत्नी को घुमाने ले गया पति, सिर पर लाठी मारकर नहर में धकेल दियाUpdated: Wed, 11 Jan 2017 08:59 PM (IST)

संदेह के रूप में आरोपी पति से पूछताछ की तो उसने ही अपना जुर्म स्वीकार कर लिया।

अशोकनगर। जिला मुख्यालय से 65 किमी दूर चंदेरी थाने के अंतर्गत ग्राम निदानपुर में 15 दिन पहले एक ग्रामीण ने पुलिस में गुमशुदगी दर्ज कराते हुए कहा था कि उसकी पत्नी घर से कहीं गायब हो गई है। पुलिस ने गुमशुदगी दर्ज करने के बाद जब महिला की लाश नहर में पड़ी मिली तब संदेह के रूप में आरोपी पति से पूछताछ की तो उसने ही अपना जुर्म स्वीकार कर लिया। पुलिस ने आरोपी पति को धारा 302, 201 के तहत गिरफ्तार कर लिया है।

पूरे मामले की कहानी यह है कि निदानपुर में रामवीर अहिरवार उम्र 26 वर्ष की 24 वर्षीय पत्नी कुसुम 25 दिसम्बर को घर से कहीं चली गई थी जिसकी रिपोर्ट आरोपी पति ने चंदेरी थाने में दर्ज कराई थी। पुलिस ने पति की रिपोर्ट पर से पत्नी के गायब होने पर गुमशुदगी का मामला दर्ज किया था।

इसी बीच पुलिस को एक मुखबिर ने सूचना दी थी कि एक महिला का शव मोहनपुर तालाब से निकली नहर में पड़ा हुआ है। तब पुलिस ने मौके पर पहुचकर महिला के शव को देखने के बाद जब उसकी शिनाख्त की गई तब उसकी पहचान कुसुम पति रामवीर अहिरवार के रूप में की गई।

घटना के बारे में जब संदेह के तौर पर पति से पूछताछ की गई तब पति ने बताया कि खाना बनाने को लेकर उसके और पत्नी के बीच विवाद हो गया था। इस विवाद के बाद उसकी पत्नी गांव में ही रूठकर चली गई थी। रात को वह जब घर आयी तो उसका कहना था कि पत्नी घर में सो रही थी बाद में घर से कहीं चली गई थी। लेकिन जब पुलिस ने सख्ती दिखाई तब आरोपी पति ने अपना जुर्म स्वीकार करते हुए कहा कि वह ही उसे नहर के पास ले गया था और सिर पर लाठी से वार कर उसे नहर में ढ़केल दिया था।

यह घटना उसने खाना बनाने के मामले से पत्नी से हुए विवाद करना स्वीकार किया है। चंदेरी के टीआई अशोक तोमर ने बताया कि उसका घर नहर से मात्र ढाई सौ मीटर दूर है तथा महिला खिरियाढावा गांव की रहने वाली है। उसकी ससुराल निदानपुर में थी।

जब महिला का पोस्टमार्टम कराया गया तो महिला के सिर पर आयी चोटों के आधार पर उसकी मौत होना बताई गई। पानी में डूबने से उसकी मौत नहीं हुई है। चंदेरी पुलिस ने आरोपी पति को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। महिला 6 माह की बेटी भी है।

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.