केंद्र-राज्य में एक ही पार्टी की सरकार से तेज विकास, वड़ोदरा में बोले PM मोदीUpdated: Sun, 22 Oct 2017 11:10 AM (IST)

दिल्ली रवाना होने से पहले पीएम ने वडोदरा में जनसभा को संबोधित किया। वडोदरा में उन्होंन विपक्ष पर तीखा प्रहार किया।

अहमदाबाद। प्रधानमंत्री मोदी ने रविवार को अहमदाबाद में कई परियोजनाओं का उद्घाटन किया। इस मौके पर आयोजित जनसभा में उन्होंने राज्य के मतदाताओं को आगाह करते हुए कहा कि केंद्र और राज्य में अलग-अलग पार्टियों की सरकार होने से विकास रुक जाता है।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री रहते हुए वे जब प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से नर्मदा बांध के सिलसिले में मिलने जाते थे, तो वे पूछते थे कि अभी तक आपका काम नहीं हुआ? ऐसा कहते हुए उन्होंने मनमोहन की पतली आवाज की नकल भी उतारी।

इसके बाद उन्होंने मोरारजी देसाई और अटल बिहारी वाजपेयी के प्रधानमंत्री रहते उसी पार्टी की सरकार में तेजी से गुजरात का विकास होने का भी उल्लेख किया।

उन्होंने कहा कि विकास का लक्ष्य तभी हासिल होता है, जब केंद्र की सरकार राज्य के हितों के प्रति सहानुभूति रखने वाली होती है।

यदि अटलजी की सरकार केंद्र में नहीं होती तो गुजरात 2001 में भूकंप की आपदा से कभी नहीं उबर पाता। उस समय गुजरात में केशुभाई पटेल की सरकार थी।

घोघा में फेरी उद्घाटन -

इससे पहले पीएम ने घोघा से दाहेज तक रो-रो फेरी में 100 दिव्यांग बच्चों के साथ पीएम मोदी दाहेज पहुंचे।

घोघा में उन्होंने फेरी के उद्घाटन करते हुए कहा कि पहले लोग नावों से सफर करते थे और यह फेरी सेवा देश ही नहीं पूरे दक्षिण-पूर्व एशिया में अपनी तरह का पहला प्रोजेक्ट है।

पीएम ने कहा कि इस फेरी सर्विस की शुरुआत के साथ ही रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे साथ ही बड़ी मात्रा में समय और ईंधन की बचत होगी। हम इस फेरी के माध्यम से और भी जगहों को जोड़ने की कोशिश करेंगे।

पीएम ने यूपीए सरकार पर भी इस दौरान निशाना साधा और कहा कि उस समय वापी से लेकर कच्छ तक विकास पर प्रतिबंध लगा दिया गया था। पर्यावरण के नाम पर हमारे उद्योंगो पर ताले लगाने की धमकी दी थी। लेकिन जब मुझे सेवा का मौक मिला तो परेशानियां दूर होती गईं।

इससे पहले दौरे के लिए पीएम रविवार को भावनगर पहुंचे जहां मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने उनका स्वागत किया। यहां से पीएम फेरी सेवा के पहले चरण की शुरुआत करने पहुंचे और अपने संबोधन के बाद पीएम ने 100 दिव्यांग बच्चों के साथ फेरी की पहली यात्रा की।

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.