मोदी पर चूड़ी फेंकने वाली महिला चूड़ी चिह्न पर चुनाव लड़ेगीUpdated: Sat, 02 Dec 2017 12:58 PM (IST)

महिला का नाम चंद्रिकाबेन है जो वड़ोदरा शहर विधासनभा सीट से चुनाव लड़ रही है। वह निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में चुनाव मैदान में है।

अहमदाबाद। गुजरात चुनाव से जुड़ी एक रोचक खबर आई है। बीते दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वड़ोदरा में रोड शो किया था। तब एक महिला ने विरोधस्वरूप उन पर चूड़ियां फेंकी थीं। यह महिला भी चुनाव मैदान में हैं और इसका चुनाव चिह्न है चूड़ी।

महिला का नाम चंद्रिकाबेन है जो वड़ोदरा शहर विधासनभा सीट से चुनाव लड़ रही है। वह निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में चुनाव मैदान में है।

मालूम हो, वड़ोदरा में प्रधानमंत्री मोदी के रोड के दौरान उन पर चूड़िया फेंककर चंद्रिकाबेन चर्चा में आई थीं। कांग्रेस की तरफ से चंद्रिकाबेन को टिकट मिलने का दावा किया जा रहा था, लेकिन आखिरी समय में पार्टी पीछे हट गई।

निर्दलीय चुनाव लड़ रही चंद्रिकाबेन सोलंकी का कहना है कि वे जनता के काम न आने वाले सभी नेताओं को चूड़ी पहनाना चाहती हैं। इसीलिए उन्होंने चुनाव चिह्न के रूप में चूड़ी का चयन किया है।

उन्होंने कहा कि प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भरतसिंह सोलंकी के साथ उनके निवास स्थान पर मीटिंग हुई थी। इसमें उन्हें स्टार प्रचार और कांग्रेस में अच्छा पद ऑफर दिया गया था। कांग्रेस अध्यक्ष के सामने उन्होंने कांग्रेस की टिकट पर चुनाव लड़ने की इच्छा जताई थी, परंतु वड़ोदरा शहर विधानसभा सीट पर कांग्रेस के प्रत्याशी की सीट पहले से ही कन्फर्म होने से राहुल गांधी उन्हें टिकट देने से इंकार कर दिया।

चंद्रिकाबेन का कहना है, मेरे पास पैसा नहीं है, लेकिन जनता का साथ जरूर है और मैं जनता से चंदा लेकर चुनाव लड़ रही हूं। मेरा साथ आशावर्कर और आंगनवाड़ी बहन है जो चुनाव के लिए फंड एकत्रित कर रही हैं। महिलाओं के सम्मान के लिए वे विधानसभा सीट के सभी बूथ पर रैली निकालेंगी और डोर टू डोर प्रचार करेंगी।

द्वारकाधीश मंदिर

राहुल ने तीन दिवसीय गुजरात दौरे की शुरुआत इस मंदिर में माथा टेककर की। हार्दिक पटेल ने भी ट्वीट किया, गुजरात में कांग्रेस उपाध्यक्ष का स्वागत है। जयश्रीकृष्ण।

2017-09-25

,

चोटिला मंदिर

सुरेंद्रनगर जिले के चोटिला में राहुल बिना रुके 15 मिनट में करीब 1000 सीढ़ियां चढ़कर मंदिर में पहुंच गए। वहां दर्शन किए, लोगों से मिले और महज 15 मिनट में नीचे आ गए।

2017-09-27

,

संतराम मंदिर

9 अक्टूबर से 11 अक्टूबर के बीच राहुल गुजरात में थे और इस दौरान वो नडियाड के संतराम मंदिर में भी गए और दर्शन किए।

2017-10-10

,

संत कबीर मंदिर

दाहोद जिले के सलैया गांव पहुंचे राहुल ने संत कबीर मंदिर में पूजा की और भजन कीर्तन किया। यह 16वां मंदिर था जहां राहुल ने माथा टेका।

2017-10-11

,

भाथीजी महाराज मंदिर

राहुल खेड़ा जिले के फागवेल गांव के 200 साल पुराने भाथीजी महाराज मंदिर में माथा टेका और कीर्तन में हिस्सा लिया।

2017-10-11

,

अक्षरधाम मंदिर

राहुल गांधीनगर के अक्षरधाम मंदिर गए। यह चुनावी इलाका प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का गढ़ माना जाता है।

2017-11-11

,

वीर मेघ माया मंदिर

राहुल ने वीर मेघ माया मंदिर में की पूजा। नॉर्थ गुजरात के पाटन में स्थित वीर मेघ माया को दलित समुदाय का माना जाता है।

2017-11-13

,

सोमनाथ मंदिर

राहुल के इस मंदिर जाने पर विवाद ही हुआ। मंदिर के रजिस्टर में उन्होंने कथिततौर पर गैर-हिंदू के तौर पर एंट्री कराई। सफाई देते हुए पार्टी प्रवक्ता रणदीप सूरजेवाला ने कहा, राहुल जनेऊधारी हिंदू।

2017-11-29

,

इन मंदिर में भी गए

इसके अलावा राहुल वैद्यनाथ मंदिर, खोदिया माताजी, भाटीजी महाराज मंदिर, अंबाजी, और बहुचारजी मंदिर भी जा चुके हैं।

2017-12-30

,

...इस दिन मिलेगा फल?

9 और 14 दिसंबर को दो चरणों में होगी वोटिंग, 18 दिसंबर को आएंगे नतीजे।

2017-12-08

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.