'गोलमाल अगेन'Updated: Fri, 20 Oct 2017 04:10 PM (IST)

इस बार रोहित शेट्टी ने फ़िल्म में सिर्फ गैग्स ही नहीं डाले बल्कि उसमें एक स्ट्रांग स्टोरीलाइन भी डाली है जो इसे अधिक रोचक बनाता है।

कुछ फ़िल्मों में दिमाग नहीं लगाया जाता। आप जाएं, देखें, मनोरंजन करें, हंसते-खिलखिलाते बाहर आ जाएं! इस तरह की फ़िल्में शायद आप घर तक साथ ना ले जा पाएं मगर मनोरंजन की पूरी गारंटी होती है। इसी तरह की फ़िल्म है रोहित शेट्टी की- 'गोलमाल अगेन', फर्क सिर्फ इतना है कि इस बार रोहित शेट्टी ने फ़िल्म में सिर्फ एक गैग्स ही नहीं डाले बल्कि उसमें एक स्ट्रांग स्टोरीलाइन भी डाली है जो इसे अधिक रोचक बनाता है।

मूलतः यह पांच मित्रों की कहानी है गोपाल (अजय देवगन) लक्ष्मण नंबर वन (श्रेयस तलपड़े) लक्ष्मण नंबर दो (कुणाल खेमू) माधव (अरशद वारसी) और लकी( (तुषार कपूर)। बचपन में अनाथ आश्रम में पले-बढ़े यह पांचों मित्र अनाथ आश्रम के संस्थापक की मृत्यु के बाद वहां पर पहुंचते हैं। इसमें गोपाल और लक्ष्मण एक गैंग में है तो दूसरे गैंग में है माधव लक्ष्मण और लकी! इन दोनों की आपस में बिल्कुल नहीं बनती।

यहां पर उनकी मुलाकात होती है एना से, जो एक लाइब्रेरियन होने के साथ साथ आत्माओं के लिए माध्यम भी है। परिस्थितिवश इन पांचों को एक साथ एक घर में रहना पड़ता है और इन्हें जरा सी भी भनक नहीं होती कि वह घर हॉन्टेड है। इसके बाद क्या-क्या मुसीबतों का सामना उन्हें करना पड़ता है? क्या आत्मा का उदेश्य सफल होता है? इसे बहुत ही मनोरंजक रूप से निर्देशक रोहित शेट्टी ने कहानी में पिरोया है!

फ़िल्म का निर्माण हर बार की तरह बहुत ही बड़े पैमाने पर रोहित शेट्टी ने किया है। हर फ्रेम में उनकी मेहनत और भव्यता साफ नज़र आती है! पूरी फ़िल्म ठहाके लगाने पर, मुस्कुराने पर मजबूर कर देती है। बावजूद इसके लगता है इस बार रोहित शेट्टी ने अपने एडिटर को छूट दे रही थी क्योंकि कुछ दृश्यों में लंबाई खल रही थी इसे और एडिट किया जा सकता था!

अभिनय की बात करें तो अजय देवगन, अरशद वारसी, तुषार कपूर, कुणाल खेमू और श्रेयस तलपड़े गोलमाल सीरीज़ का पहले भी हिस्सा रहे हैं और इन सभी की टाइमिंग और कॉमेडी पर मजबूत पकड़ है। तो इन सबमें से कोई भी एक भी मौका नहीं छोड़ता! सभी का परफॉमेंस जबरदस्त रहा है। 'गोलमाल' में दो कलाकारों की नई एंट्री हुई है। एक तब्बू और दूसरी परिणीति चोपड़ा। इन के किरदारों के हिस्से कॉमेडी नहीं आई! तब्बू को फिर एक बार देखना सुखद रहा! परिणीति ने भी अपने किरदार से पूरा न्याय किया है। नील नितिन मुकेश भी अपने किरदार में जंचे हैं। इसके अलावा रोहित शेट्टी के पसंदीदा कलाकार संजय मिश्रा, मुकेश तिवारी, अश्विनी कालसेकर ये भी अपने छोटे-छोटे रोल में छा जाते हैं।

कुल मिलाकर 'गोलमाल अगेन' एक मनोरंजक फ़िल्म है। जिसे आप परिवार के साथ जाकर देख सकते हैं। त्योहार के इस मौसम में आप ठहाके लगाएंगे इस बात की पूरी गारंटी है!

- पराग छापेकर

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.