वो फ्लाइट में मिले और बदल गए तुषार कपूर की जिंदगीUpdated: Thu, 12 Oct 2017 05:03 PM (IST)

तुषार कपूर बॉलीवुड के पहले मेल स्टार हैं, जिन्होंने सिंगल पैरेंट के रूप में अपने बेटे लक्ष्य के पालन-पोषण की जिम्मेदारी ली है।

तुषार कपूर बॉलीवुड के पहले मेल स्टार हैं, जिन्होंने सिंगल पैरेंट के रूप में अपने बेटे लक्ष्य के पालन-पोषण की जिम्मेदारी ली है। तुषार ने फिल्मकार प्रकाश झा के कहने पर ये निर्णय किया था।

तुषार कहते हैं कि उनके लिए भी ये फ़ैसला करना कठिन था। मन में डाउट्स आए थे कि पता नहीं लोग क्या कहेंगे। एक बार फ्लाइट में प्रकाश झा से उनकी मुलाकात हुई, तो प्रकाश ने उनसे पूछा कि उनका क्या इरादा है शादी को लेकर, तो तुषार ने उन्हें कहा कि अरेंज मैरेज करना नहीं है और प्यार हो नहीं रहा तो प्रकाश जी ने उन्हें राय दी कि वह पैरेंट तो बन ही सकते हैं। खुद उन्होंने भी सिंगल पैरेंट के रूप में एक बेटी को अडॉप्ट किया है और आज वो कई साल हो गई है। तब उन्होंने ही तुषार को एक परिवार का नंबर भी दिया। तुषार फिर उन लोगों से मिले और फिर उन्होंने पूरी जानकारी हासिल की। जब उन्होंने अपने परिवार के सभी सदस्यों से यह बात शेयर की तो सभी ने तुषार को सपोर्ट किया। तुषार से सभी ने कहा और खासतौर से पिता जीतेंद्र ने कि तुमको दो दिन लोग कुछ कहेंगे। फिर सब शांत हो जाएंगे, तो तुम किसी बात की चिंता मत करो, आगे बढ़ो। तुषार ने बताया कि बहन एकता कपूर ने सबसे अधिक सपोर्ट किया।

तुषार कहते हैं "मैं मैच्योर हो गया हूं। मैं अब काम को भी उसी तरह से मैनेज करता हूं। मैं शूटिंग के वक्त भी उसे साथ लेकर जाता हूं, लेकिन सेट पर नहीं। सिर्फ शहर में, चूंकि मुझे इनिशियली लगता है कि बच्चे को अपने प्राइमरी पैरेंट की जरूरत होती ही है। तो मेरी सारी चीजें उसी के इर्द-गिर्द घूमती है। 'गोलमाल अगेन' के भी पूरे ट्रिप पर वह मेरे साथ रहा है। मैं इस बात से खुश हूं कि मैं इस जिम्मेदारी को पूरा कर पा रहा हूं। मैं उसे बिल्कुल आम बच्चों की तरह ही पालना चाहता हूं। मैं उसे पार्क में भी घुमाने फिराने ले जाता हूं। आउटडोर गेम्स के लिए भी हम जाते रहते हैं।''

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.