अगले चुनाव में 'मतदाता एप' से मिलेगी पर्ची, 5 विधानसभा से ट्रायलUpdated: Wed, 15 Nov 2017 07:15 AM (IST)

राज्य के 5 विधानसभा क्षेत्र में इसके लिए ट्रायल करने की प्रक्रिया शुरू होगी। अगले महीने से ट्रायल होगा।

रायपुर। राज्य निर्वाचन आयोग ने छत्तीसगढ़ के आगामी नवम्बर-दिसम्बर 2018 में प्रस्तावित विधानसभा चुनाव की तैयारी तेज कर दी है। इसमें तकनीक का भरपूर इस्तेमाल किया जाएगा। तमिलनाडु के बाद छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश में पहली बार विधानसभा चुनाव में मोबाइल मतदाता सर्च एप का इस्तेमाल किया जाएगा।

इससे न सिर्फ मतदाता पर्ची निकाली जाएगी, बल्कि चुनाव में खड़े उम्मीदवारों की भी जानकारी अपडेट मिलेगी। राज्य के 5 विधानसभा क्षेत्र में इसके लिए ट्रायल करने की प्रक्रिया शुरू होगी। अगले महीने से ट्रायल होगा।

इनमें मुख्य रूप से सरगुजा विधानसभा क्रमांक 10 अंबिकापुर, दुर्ग जिले विधानसभा क्रमांक 65 भिलाईनगर, बिलासपुर का विधानसभा क्रमांक 30 बिलासपुर, बस्तर का 86 जगदलपुर और रायपुर का 49 रायपुर नगर-पश्चिम शामिल हैं।

मतदाता सर्च एप की ट्रेनिंग पूरी

मतदाता सर्च एप के जरिए मतदाता सूची का नाम जोड़ने, संशोधित करने की ट्रेनिंग भी लगभग पूरी हो चुकी है। जल्द ही मोबाइल सर्च एप के चालू हो रहा है। चुनाव के लिए अब महज एक साल ही बचा है। युद्घ स्तर पर लोगों के डेटाबेस तैयार हो रहे हैं। भारत सरकार के निर्वाचन आयोग की ओर से से यह मोबाइल एप तैयार किया गया है। इसे मतदाता सर्च एप नाम दिया गया है।

ये होंगे फायदे

मतदाता सर्च एप से मतदान केंद्र, मतदाताओं, अभ्यर्थियों तथा निर्वाचन से सम्बंधित महत्वपूर्ण जानकारियां उपलब्ध होंगी। मोबाइल एप पर कोई भी विधानसभा के मतदाता अपने विधानसभा का नाम टाइप करके अपना नाम टाइप कर मतदाता सूची में नाम है या नहीं यह जानकारी खोज सकते हैं।

इससे अब किसी सरपंच, पार्षद, तहसील, निर्वाचन दफ्तर या कलेक्ट्रेट दफ्तर में भटकने की जरूरत नहीं होगी। फोटोयुक्त ई-मतदाता पर्ची डाउनलोड किया जा सकेगा। इसी के आधार पर मतदाता पर्ची भी मिलेगी।

मतदाता केंद्र की भी जानकारी

मतदाता सर्च एप में न सिर्फ मतदाताओं के नाम , बल्कि चुनाव किस तारीख को है, चुनाव के लिए बूथ कहां पर है। मतदान केंद्रों की स्थिति नक्शे पर पाने की पूरी सुविधा मिल सकेगी। मतदान केंद्र तक पहुंचने के लिए दिशा-मार्ग भी गूगल मैप के जरिए देख सकेंगे।

उम्मीदवारों की भी रहेगी कुंडली

मोबाइल एप में अपने नाम को पहचानने के लिए आप अन्य जानकारी भी देख सकेंगे। इनमें प्रमुख रूप से उम्मीद्वारों के नाम, पिता का नाम, आयु, लिंग, वैवाहिक स्थिति, श्रेणी, शैक्षणिक योग्यता आदि की जानकारी मिल सकेगी।

ऐसे कर सकते हैं डाउनलोड

मतदाता सर्च एप को दो तरह से डाउनलोड कर सकते हैं। एक तो गूगल प्ले जाकर मतदाता सर्च एप डाउनलोड करें या फिर राज्य निर्वाचन आयोग वेबसाइट में जाकर डाउनलोड कर सकते हैं।

डेटाबेस हो रहा तैयार

मोबाइल एप और ऑनलाइन सुविधा देने के लिए मतदाताओं का राष्ट्रीय स्तर पर डाटा बेस तैयार किया जा रहा है। निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी इसी सॉफ्टवेयर में कार्य कर रहे हैं। सॉफ्टवेयर में मतदाताओं को ऑनलाइन कार्य करने की सुविधा मिलेगी। इसमें वे अपने आवेदन की स्थिति की भी जांच कर सकेंगे। साथ ही मोबाइल मतदाता सर्च एप भी जल्द ही शुरू हो जाएगा। - सुब्रत साहू, मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी, छत्तीसगढ़

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.