थिएटर विशेषज्ञ ने बताईं रूप, प्रकाश सज्जा की बारीकियांUpdated: Sun, 29 Mar 2015 10:47 PM (IST)

संस्कृति विभाग के सभागार में नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा ने संयुक्त रूप से 15 से 29 मार्च तक थिएटर से जुड़े 45 रंग कर्मियों को अलग-अलग विधा में प्रशिक्षण दिया। रविवार को

रायपुर। संस्कृति विभाग के सभागार में नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा ने संयुक्त रूप से 15 से 29 मार्च तक थिएटर से जुड़े 45 रंग कर्मियों को अलग-अलग विधा में प्रशिक्षण दिया। रविवार को इस प्रशिक्षण कार्यशाला का समापन किया गया। इसके पहले रूप सज्जा की बारीकियों से रंग कर्मियों को अवगत कराते हुए विशेषज्ञ शिवदास घोड़के और प्रकाश सज्जा पर विशेषज्ञ संदीप भट्टाचार्य ने कहा कि प्रशिक्षण के दौरान बुनियादी चीजों की जानकारी दी गई है। इसे अनुभव से आगे बढ़ाने की जरूरत है।

सुबह 10 बजे प्रशिक्षण कार्यशाला के समापन अवसर पर प्रमुख रूप से संस्कृति विभाग के संचालक राकेश चतुर्वेदी, एसके मिश्रा, सुभाष मिश्रा मौजूद थे। मंच संचालन योगेन्द्र चौबे ने किया। इनके मार्गदर्शन में कृति वी. शर्मा से वेश-भूषा और आलोपी वर्मा से मंच सज्जा की ट्रेनिंग प्राप्त रंग कर्मियों ने अनुभव बांटा। समापन अवसर पर मौजूद अतिथियों ने सभी 45 प्रतिभागी रंग कर्मियों को प्रोत्साहन प्रमाण पत्र दिया। वहीं ट्रेनिंग प्राप्त कलाकारों ने रूप सज्जा और प्रकाश सज्जा के संदर्भ में सिखाई गई बारिकियों को बेहतर बताया। साथ ही रंग कौशल में आई नई तकनीक से जोड़ने और इसकी बारीकियां बताने के लिए किया गया प्रयास बेहतर रहा और इसका फायदा मिलने की बात कही।

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.