पटरी से उतरी मालगाड़ी, दो घंटे ठप रहा रेल यातायातUpdated: Mon, 25 Apr 2016 08:01 PM (IST)

चक्रधरपुर से भिलाई स्टील प्लांट के लिए आयरन ओर लेकर आ रही मालगाड़ी के पांच डिब्बे सोमवार को बिल्हा के पास पटरी से उतर गए।

रायपुर। चक्रधरपुर से भिलाई स्टील प्लांट के लिए आयरन ओर लेकर आ रही मालगाड़ी के पांच डिब्बे सोमवार को बिल्हा के पास पटरी से उतर गए। रायपुर से करीब 100 किमी दूर दोपहर लगभग सवा दो बजे हुई इस घटना के कारण मुंबई-हावड़ा मेन लाइन पर रायपुर- बिलासपुर के बीच रेल यातायात ठप हो गया। करीब दो घंटे के बाद डाउन और मिडिल लाइन के जरिए ट्रेनों की आवाजाही शुरू हुई। घटना की वजह से बिलासपुर से अमृतसर के लिए चली छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस को बिल्हा से वापस बिलासपुर भेजना पड़ा। वहीं दो पैसेंजर ट्रेनें रद्द करनी पड़ीं।

रेल अफसरों के अनुसार हादसा बिलासपुर स्टेशन से करीब 16 किमी दूर हुई, लेकिन इसकी सूचना मिलने तक राजधानी एक्सप्रेस और छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस बिलासपुर से चल चुकी थीं। हादसे की सूचना मिलते ही राजधानी एक्सप्रेस को बेलगहना स्टेशन पर रोका गया, जबकि बिलासपुर से कुछ दूर आई छत्तीसगढ़ को वापस स्टेशन ले जाया गया। इस बीच घटना की जानकारी मिलते ही डीआरएम रायपुर राहुल गौतम पूरी टीम के साथ मौके पर पहुंच गए।

उन्होंने बताया कि आयरन ओर लेकर आ रही ट्रेन के पीछे से दूसरे, तीसरे और चौथे डिब्बे पटरी से उतर गए। उन्होंने बताया कि पहली नजर में हादसे की वजह लोडिंग में गड़बड़ी लग रही है। अप लाइन से आ रही ट्रेन के डिब्बे पटरी से उतर कर मिडिल लाइन तक चले गए।

इसकी वजह से तीनों लाइनों पर रेल यातायात रोकना पड़ा। मिडिल लाइन पर ज्यादा नुकसान नहीं हुआ। इसी वजह से दो घंटे की कोशिश के बाद पहले डाउन लाइन, फिर मिडिल लाइन को चालू कर दिया गया। लाइन चालू होने के बाद सबसे पहले राजधानी एक्सप्रेस को रवाना किया गया, जो करीब पौने चार घंटे देर से शाम सवा सात बजे रायपुर पहुंची। वहीं छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस भी तीन घंटे से अधिक की देरी से चली।

दो पैसेंजर रद्द

हादसे की वजह से बिलासपुर से दोपहर बाद शाम को करीब पौने पांच बजे रायपुर के लिए चलने वाली पैसेंजर रद्द कर दी गई। वहीं रैक न होने के कारण गोंदिया- डोंगरगढ़ पैसेंजर भी रद्द कर दी गई।

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.