Live Score

भारत 5 विकेट से जीता मैच समाप्‍त : भारत 5 विकेट से जीता

Refresh

दिल्ली में जर्नादन द्विवेदी, हरिप्रसाद और वोरा से मिले भूपेशUpdated: Fri, 19 May 2017 01:20 AM (IST)

राज्य सरकार पर आरोप लगाया है कि उन्हें राजनीतिक साजिश के तहत झूठे प्रकरणों में फंसाया जा रहा है।

रायपुर। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल ने दिल्ली प्रवास के दूसरे दिन गुरुवार को एआईसीसी के जनरल सेक्रेटरी जनार्दन द्विवेदी, छत्तीसगढ़ प्रभारी बीके हरिप्रसाद और एआईसीसी के कोषाध्यक्ष मोतीलाल वोरा से मुलाकात की।

बघेल ने बताया कि तीनों नेताओं से उनकी संगठन चुनाव, भाजपा सरकार की कमीशनखोरी के खिलाफ चलाए जा रहे आंदोलन समेत अन्य विषयों पर चर्चा हुई। पार्टी सूत्रों के मुताबिक बघेल ने जमीन विवाद पर हाईकमान को दस्तावेजों के साथ सफाई दी है। उन्होंने राज्य सरकार पर आरोप लगाया है कि उन्हें राजनीतिक साजिश के तहत झूठे प्रकरणों में फंसाया जा रहा है।

बघेल ने बुधवार को कुरुदडीह गांव में किसानों की सरकारी जमीन का पट्टा दिलाने के लिए मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह और राजस्व मंत्री प्रेमप्रकाश पांडेय से मुलाकात की। अगले दिन गुरुवार सुबह बघेल गोपनीय तरीके से दिल्ली के लिए रवाना हो गए।

यहां कांग्रेस के किसी भी नेता को उनके दिल्ली जाने की रात तक खबर नहीं थी। दो दिन में बघेल ने हाईकमान के करीब बड़े नेताओं से मुलाकात की। प्रदेश प्रभारी हरिप्रसाद ने उन्हें एआईसीसी के जनरल सेक्रेटरी द्विवेदी से मुलाकात कराई, क्योंकि कुछ दिन पहले प्रदेश निर्वाचन अधिकारी रजनी पाटील और दो प्रदेश सहायक निर्वाचन अधिकारी यहां आए थे और पाटील ने कमीशनखोरी के खिलाफ आंदोलन व ईओडब्ल्यू में मां-पत्नी के साथ धरना देने पर बघेल की प्रशंसा की थी, इसलिए बघेल को उम्मीद है कि हाईकमान तक सकारात्मक रिपोर्ट पहुंची है।

पार्टी में यह भी चर्चा है कि भूपेश की मुलाकात पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहुल गांधी से भी हुई है। राहुल गांधी इसी माह की 26 तारीख को खरसिया दौरे हो सकता है, लेकिन भूपेश ने इसकी पुष्टि नहीं की है।

पिता ने अब कहा- मेरा बेटा रहेगा मुख्यमंत्री का चेहरा

भूपेश बघेल के पिता नंदकुमार बघेल ने मीडिया को बयान दिया है कि कांग्रेस हाईकमान छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री पद के लिए उनके बेटे का चेहरा प्रोजेक्ट करने वाली है। प्रदेश में 52 फीसदी पिछड़े वर्ग की जनता है। भूपेश पिछड़े वर्ग के लोगों को एकजुट करने में सफल हो रहे हैं।

लेकिन, नंदकुमार बघेल ने पार्टी के पांच नेताओं रविंद्र चौबे, सत्यनारायण शर्मा, रामसुंदर दास, अमितेष शुक्ल और मोतीलाल वोरा का नाम लेकर आरोप लगाया है कि से नेता नहीं चाहते की भूपेश सीएम बनें। इस बयान पर भूपेश बघेल का कहना है कि उनके पिता का पार्टी से कोई संबंध नहीं है। उनके बयान पर कोई प्रतिक्रिया नहीं देना चाहता।

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.