Live Score

भारत 141 रन से जीता मैच समाप्‍त : भारत 141 रन से जीता

Refresh

मछली पकड़ने के लिए तालाब में फेंका जाल, आ गया मगरमच्छUpdated: Mon, 20 Mar 2017 03:59 AM (IST)

कोड़ामुड़ा के तालाब में मछली मारने के दौरान जाल में मगरमच्छ फंस गया।

रायगढ़, नईदुनिया प्रतिनिधि। रविवार को चपले के कोड़ामुड़ा के तालाब में मछली मारने के दौरान जाल में मगरमच्छ फंस गया। जिसके बाद लोगों ने मामले की जानकारी वन विभाग को दी। वन विभाग की टीम मौके पर पहुंचकर मगरमच्छ को अपने कब्जे में लिया और उसे अब जंगल सफारी या कानन पेंडारी भेजने की तैयारी की जा रही है।

मामला इस प्रकार है कि चपले क्षेत्र के कोड़ामुड़ा गांव में रविवार को कुछ लोग तालाब में मछली मारने गए थे। जहां मछली मारने के दौरान उन्होंने जैसे जाल फेंका गया। जाल मे मछली तो नहीं फंसी। लेकिन मगरमच्छ उस जाल में फंस गया। पहले तो मछुवारों में हड़कंप मच गया। लेकिन बाद में उन्होंने उस मगरमच्छ को पकड़कर बांध दिया। उसके बाद मामले की जानकारी वन विभाग को दिया गया।

वन विभाग को सूचना मिलने के बाद टीम मौक पर पहुंची और मगरमच्छ को पकड़कर ले गए। बताया जा रहा है कि वन विभाग द्वारा पकड़े गए मगरमच्छ को रायपुर जंगल सफारी या कानन पेंडारी बिलासपुर भेजने की तैयारी की जा रही है।

गांव के लोगों ने ली राहत की सांस

कोड़ामुड़ा गांव के ग्रामीणों ने राहत की सांस लिया है। क्योंकि बीते 8 माह से यही मगरमच्छ को लेकर गांव के लोग दहशत में थे। वह तालाब में नहाने भी जाते थे तो डर-डर कर जाते है। कई बार तो मगरमच्छ बाहर भी आ जाता था। जिससे ग्रामीण काफी भयभीत में थे। अब वह राहत महसूस कर रहे है।

वन विभाग नहीं पकड़ सका

कई बार ग्रामीणों के मांग के बावजूद वन विभाग की टीम मगरमच्छ को नहीं पकड़ सकी। हमर बार विभाग की टीम आकर बैरंग वापस लौट आती थी। लेकिन इस बार ग्रामीणों के जाल में मगरमच्छ खुद ही फंस गया। ग्रामीण मगरमच्छ से राहत पाने कई जगह गुहार भी लगा चुके थे।

ग्रामीणों की सूचना पर मौके पर गए। जहां से पकड़े गए मगरमच्छ को अपने कब्जे में लिया गया। उसे अब जंगल सफारी या कानन पेंडारी भेजने की तैयारी की जा रही है। समीर जोनाथन, रेंजर, वन विभाग

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.