बेटे ने मां को धक्का दिया तो पिता ने काट दी गर्दनUpdated: Tue, 16 May 2017 11:54 PM (IST)

शोर होने पर बोधराम का भाई जोधराम और आसपास के लोग आए तो देखा कि राजू आंगन में मृत पड़ा था।

रायगढ़ । लैलूंगा नहर पारा वार्ड क्र 06 में रहने वाले बोधराम सारथी ने 15 मई की रात्रि मामूली विवाद को लेकर अपने एकलौते बेटे राजू सारथी के गले से टांगिया मारकर हत्या किये जाने की सूचना मृतक के बड़े पिता जोधराम सारथी द्वारा थाना लैलूंगा में दिया गया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार जोधराम सारथी (50 साल) तथा बोधराम सारथी (48 साल) दोनों भाई है, जिनका घर लैलूंगा नहर पारा वार्ड क्रमांक 06 में आगे-पीछे है । राजू सारथी (उम्र 24 साल) बोधराम सारथी का एकलौता पुत्र था। बोधराम साथी तथा उसकी पत्नी दशोदा सारथी आए दिन किसी न किसी बात को लेकर राजू को डांट फटकार करते तो राजू भी अपने माता-पिता से झगड़ा विवाद करता था।

15 मई की रात्रि करीब 10 बजे बोधराम सारथी और राजू सारथी आपस में झगड़ा कर रहे थे, जिन्हें शांत कराने राजू की मां दशोदा बाई उनके बीच गई तो राजू ने अपनी मां को धक्का दिया। इससे नाराज बोधराम सारथी ने टांगिया से राजू के गर्दन पर मारकर उसकी हत्या कर दिया।

शोर होने पर बोधराम का भाई जोधराम और आसपास के लोग आए तो देखा कि राजू आंगन में मृत पड़ा था। घटना की सूचना जोधराम सारथी द्वारा थाना लैलूंगा में दिये जाने पर थाना प्रभारी उप निरीक्षक आरके केशरवानी मौके पर पहुंचकर मर्ग पंचायतनामा कर शव को पीएम के लिये भेज दिया गया। वहीं आरोपी पिता को पुलिस ने गिरफ्तार करते हुए हत्या में प्रयुक्त टांगी को जब्त कर उसके विरुद्घ धारा 302 दर्ज कर जेल दाखिल करा दिया है।

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.