कोचिंग क्लास भी सुरक्षित नहीं, यहां चल रहा था ऐसा गोरखधंधाUpdated: Mon, 11 Sep 2017 01:03 PM (IST)

डेढ साल पहले जिले में देह व्यापार पर लगाम लगाने के लिए पीटा एक्ट लागू किया गया था।

रायगढ। डेढ साल पहले जिले में देह व्यापार पर लगाम लगाने के लिए पीटा एक्ट लागू किया गया था। लेकिन इस कानून का डर भी किसी काम नहीं आ रहा है। अब तक ब्यूटी पार्लर के नाम पर देह व्यापार का धंधा चल रहा था। लेकिन शनिवार को रायगढ पुलिस ने कोचिंग संस्थान के नाम पर चल रहे देह व्यपार का भंडाफोड किया है।

बताया जा रहा है कि यह कोचिंग संस्थान कृषि विभाग में काम करने वाले अधिकारी द्वारा संचालित किया जा रहा था। पुलिस ने कोचिंग संस्थान से तीन महिला सहित दो पुरूषों को आपत्तिजनक हालत में पाया था। सभी आरोपियों के खिलाफ पीटा एक्ट के तहत जेल भेज दिया गया है।

पुलिस ने बताया कि मुखबिर द्वारा सावित्री नगर कालोनी रायगढ के मकान नं. 29 में उज्जवल पटेल के मकान में किराए में रहने वालों विश्वनाथ बैरागी द्वारा अवैध रूप से देह व्यापार कराने की सूचना मिली। सूचना पुख्ता होने पर खरसिया एसडीओपी अशोक वाडेगांवकर के नेतृत्व में प्रशिक्षु डीएसपी मंजूलता बाज एवं चौकी जूटमिल से कर्मचारियों की टीम बनाई गई।

जहां इस बात की पुष्टि होने के बाद टीम ने दबिश दी । इस दौरान यहां तीन महिलाएं और दो पुरूष आपत्तिजनक हालत में मौजूद थे। मकान में किराएदार विश्वनाथ बैरागी पिता सहदेव बैरागी (30) निवासी फरसवानी थाना सारंगढ़ हाल मुकाम सावित्रीनगर से पूछताछ करने पर बताया कि वह कई दिनों से पैसे लेकर देह व्यापार का धंधा चला रहा है।

मकान को करीब एक माह पहले ही उज्जवल पटेल निवासी ननसिया से किराए में लिया हुआ है । दबिश के दौरान मकान में किरायेदार विश्वनाथ कुमार बैरागी, पुरूषोत्तम साहू पिता श्रीराम साहू (30) निवासी रानीसागर हाल मुकाम दीपक साहू का किराया मकान बैकुण्ठपुर रायगढ़ व तीन युवतियां मिली।

कोचिंग सेंटर होता था संचालित

बताया जा रहा है देह व्यापार में गिरफ्तार किए गए विश्वनाथ बैरागी सारंगढ कृषि विभाग में विकासखंड विस्तार अधिकारी के पद पर कार्यरत है और एक माह पहले ही उसने यहां कोचिंग सेंटर शुरू किया था। जहां सुबह के समय में वह क्लास कराता था। वहीं क्लास खत्म होने के बाद जिस्मफरोशी का धंधा कराता था। सोशल मीडिया पर गिरफ्तारी के दौरान भाजपा के एक स्थानीय बडे नेता के नाम का धौंस दिखाए जाने की भी चर्चा है।

अलग अलग थानों में कार्रवाई

यह चौकानेवाली बात है कि अब तक पीटा एक्ट में जो कार्रवाई हुई है वह अलग अलग थाना और चौकी क्षेत्र से जुडा हुआ है। पहला मामला चक्रधर नगर में तीन माह पहले दर्ज किया गया था वही दूसरा मामला एक बीते अगस्त माह में कोतरा रोड के सीएचमएओ कार्यालय के पा बने कम्पलेक्स से सामने आया था। अब तीसरा मामला जूट मिल क्षेत्र से सामने आया है। संभव है कि अगली कार्रवाई कोतवाली थाना क्षेत्र में हो।

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.