'गांधीजी का चश्मा हटाएं, नहीं तो गंदगी में लगाएंगे मोदी की फोटो'Updated: Fri, 19 May 2017 04:05 AM (IST)

कोरबा जिला कांग्रेस कमेटी शहर के अध्यक्ष राजकिशोर प्रसाद ने निगम आयुक्त को इस बारे में ज्ञापन सौंपा।

कोरबा। स्वच्छता अभियान के प्रचार-प्रसार में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की तस्वीर के स्कैच और उनके चश्मे का प्रतीक चिन्ह का उपयोग करने पर कांग्रेस ने घोर एतराज जताया है। कोरबा जिला कांग्रेस कमेटी शहर के अध्यक्ष राजकिशोर प्रसाद ने निगम आयुक्त को इस बारे में ज्ञापन सौंपा।

उन्होंने कहा कि अगर शहरी क्षेत्र में ऐसे प्रतीकों के दुरूपयोग को रोकने के लिए उचित कदम नहीं उठाए जाते हैं, तो जिला कांग्रेस कमेटी गंदगी वाले स्थानों पर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह की फोटो लगा देंगे।

निगम आयुक्त को प्रसाद ने इस विषय पर ज्ञापन सौंपते हुए कहा है कि स्वच्छता अभियान का संचालन केंद्र सरकार कर रही है। छत्तीसगढ़ राज्य सरकार भी इस काम में जुटी हुई है। अनेक स्थानों पर देखने को मिल रहा है कि इस अभियान के प्रचार-प्रसार में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के चित्र का स्कैच और उनके चश्मे का प्रतीक चिन्ह उपयोग में लाया जा रहा है।

लज्जाजनक बात यह है कि प्रसाधन गृह, कचरा पेटी और सार्वजनिक शौचालयों के बाहरी हिस्से में इन प्रतीकों का इस्तेमाल किया जा रहा है। इस तरह का प्रदर्शन न केवल अफसोसपूर्ण बल्कि अत्यंत शर्मनाक है।

आयुक्त को बताया गया है कि प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महामंत्री गिरीश देवांगन ने इस मामले को लेकर हाईकोर्ट में जनहित याचिका लगाई थी। जिस पर सामान्य प्रशासन विभाग के सचिव और प्रदेश सरकार के अपर मुख्य सचिव ने सभी संबंधित प्रशासनिक अधिकारियों और निकायों के अधिकारियों को निर्देशित किया था कि सभी स्थानों से ऐसे प्रतीकों को हटाया जाए।

प्रशासन की ओर से इस बात को लेकर हाईकोर्ट में शपथपत्र भी दिया गया है, लेकिन अभी भी हालात जस के तस बने हुए हैं। ज्ञापन के साथ निगम आयुक्त को कुछ प्रमाण भी सौंपे गए हैं। कहा गया है कि अगर गंदे स्थानों से तस्वीर व प्रतीक चिन्ह नहीं हटाए जाते हैं, तो कांग्रेस कार्यकर्ता विरोध स्वरूप वहां प्रधानमंत्री और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री की फोटो लगाने को मजबूर होंगे। इसकी पूरी जवाबदारी निगम प्रशासन की होगी।

अटपटी-चटपटी

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.