भेज्जी घटना को दोहराना चाहता था मारा गया नक्सली देवाUpdated: Mon, 20 Mar 2017 07:14 PM (IST)

बर्रेम मुठभेड़ मारा गया एलओएस देवा भेज्जी के कोत्ताचेरू घटना को क्षेत्र में दोहराने की मंशा रखता था।

दंतेवाड़ा। बर्रेम मुठभेड़ मारा गया एलओएस देवा भेज्जी के कोत्ताचेरू घटना को क्षेत्र में दोहराने की मंशा रखता था। इसके लिए उसने अपने नक्सली साथी जोगा के नाम पत्र भी लिख रखा था। पत्र जोगा तक पहुंचता इससे पहले ही वह पुलिस की गोली में मारा गया।

शनिवार को मुठभेड़ के बाद सर्चिंग के दौरान पुलिस ने घटना स्थल से नक्सलियों के पांच शव के साथ हथियार और अन्य सामग्रियां बरामद की। इनमें रोजमर्रा की जरूरत के सामान के साथ ही कुछ नक्सल किताबे, डायरी, पत्र और कागज के टुकड़े मिले हैं।

इनमें से एक पत्र नक्सली देवा ने कामरेड जोगा के नाम लिख रखा था। डायरी के पन्न्े पर गोंडी बोली में लिखे खत में देवा क्षेत्र में भेज्जी घटना को दोहराना चाहता था।

इसका उल्लेख करते उसने 17 मार्च को लिखे पत्र में कहा है कि भेज्जी में 12 हथियार जब्त किए हैं। उसने कांगेरघाटी और कटेकल्याण एरिया कमेटी के साथ मिलकर ऐसा की कृत्य करने की इच्छा रखता है। गोंडी में लिखे पत्र में उसने यह भी लिखा है कि मिलकर शेष बातें करेंगे।

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.