दंतेवाड़ा क्षेत्र में एक लाख का इनामी नक्सली गिरफ्तारUpdated: Sat, 22 Apr 2017 04:55 PM (IST)

कटेकल्याण थाना क्षेत्र के जंगल चिकपाल-परचेली से एक जनमिलीशिया कमांडर को पकड़ने में पुलिस कामयाब रही है।

दंतेवाड़ा। कटेकल्याण थाना क्षेत्र के जंगल चिकपाल-परचेली से एक जनमिलीशिया कमांडर को पकड़ने में पुलिस कामयाब रही है। चिकपाल क्षेत्र में सक्रिय और कई वारदातों में शामिल नक्सली कमांडर पर पुलिस ने एक लाख रुपए का इनाम भी घोषित कर रखा था। जिसकी तलाश लंबे समय से चल रही पर वह हर बार पुलिस का चकमा देकर बच निकलता था।

पुलिस अधिकारियों के अनुसार थाना कटेकल्याण से जिला बल सहित सीआरपीएफ की 195वीं वाहिनी की डी एवं एफ कंपनी के जवान सर्चिंग पर निकले थे। तभी चिकपाल जंगलपारा निवासी हड़मा मड़काम पिता भीमा (30) की गिरफ्तारी परचेली-चिकपाल जंगल में हुई। पुलिस पूछताछ में उनसे अपना अपराध कबूलने के साथ कई महत्वपूर्ण खुलासे भी किए हैं। पुलिस अधिकारियों के अनुसार गिरफ्तार नक्सली कमांडर पर एक लाख रुपए का इनाम घोषित था।

गिरफ्तार नक्सली ने बताया कि प्रतिबंधित माओवादी संगठन में वर्ष 2010 से जुड़ा। नक्सली लीडर सुकराम, जगदीश के कहने पर जनमिलिद्गिाया सदस्य के रूप में चिकपाल क्षेत्र में सक्रिय रहा। इस दौरान चिकपाल के पीछे प्रतापगिरी पहाड़ में नक्सली भगत एवं कोसी से ट्रेनिंग लिया।

वर्तमान में गांव में रहकर पुलिस पार्टी के आने की सूचना नक्सलियों को देता था। इसके साथ ही नक्सलियों के आने पर मीटिंग बुलाने, खाने-पीने की व्यवस्था करना एवं नक्सली संगठन को मजबूत करने का काम करता था।

संगठन के भर्ती होने के बाद चिकपाल जनमिलिशिया कमांडर के रूप में डूमान एलओएस के कमांडर मंगतू के साथ कार्य कर रहा था।

वर्ष 2016 में बडेगादम और मुनगा के बीच गस्त पर निकली पुलिस पार्टी पर हमला करने की घटना में शामिल था। इसमें माओवादी जनमिलिशिया सदस्य मुचाकी सोना पकड़ा गया था। इसी 27 फरवरी को नक्सलियों के भारत बंद का आव्हान के दौरान 26 फरवरी को कटेकल्याण क्षेत्र ग्राम कटेकल्याण-दंतेवाड़ा मार्ग पर ग्राम गाटम के पास यात्री बस को आग लगा कर क्षतिग्रस्त करने में शामिल था।

इसी माह ग्राम गुडसे के पास पुलिस पार्टी को जान से मारने व हथियार लूटने की नियत से प्रेशर बम लगाने की घटना में शामिल था उक्त बम के चपेट में आकर पुलिस के 02 जवान घायल हुए थे।

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.