आगजनी के बाद सर्चिंग, कमांडर मल्लेश सहित एक दर्जन नक्सलियों पर प्रकरणUpdated: Wed, 05 Apr 2017 06:54 PM (IST)

कोंडेनार-नावघाट के पास दो जेसीबी और एक ट्रेलर को आग लगाने वाले नक्सलियों के खिलाफ बारसूर थाने में अपराध दर्ज कर लिया है।

दंतेवाड़ा। मंगलवार को मुचनार पंचायत के कोंडेनार-नावघाट के पास दो जेसीबी और एक ट्रेलर को आग लगाने वाले नक्सलियों के खिलाफ बारसूर थाने में अपराध दर्ज कर लिया है। इसके साथ ही क्षेत्र में सर्चिंग तेज कर दी गई है। आसपास के ग्रामीणों से भी पूछताछ की जा रही है।

एएसपी जीएन बघेल के मुताबिक आगजनी घटना के बाद क्षेत्र में गश्ती बढ़ा दी गई है। आसपास के गांव जंगल में फोर्स नक्सलियों की तलाश में जुटी है। अधिकारी के अनुसार थाने में नक्सलियों के 16 नंबर प्लाटून के कमांडर मल्लेश सहित बोधघाट एलएसओ निर्मला, डिविजन कमेटी सदस्य चंद्रिका, संतु, मंगे, सुरेश, रामशीला, रामाधर आदि के खिलाफ अपराध दर्ज किया गया है।

उनके खिलाफ पुलिस ने भादंवि की धारा 147, 148, 149, 435, 427, 25 (27) आर्म्स एक्ट तथा विस्फोटक अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है। ज्ञात हो कि जल आवर्धन योजना के तहत बारसूर नगर पंचायत में जल आपूर्ति के लिए पाइप लाइन इंद्रावती नदी तक बिछाई जा रही है। इसके लिए नदी तट पर इंटेकवेल का निर्माण स्वीकृत हुआ है और ठेकेदार नंदु भदौरिया कार्य करवा रहा था। जिसका विरोध करते नक्सलियों ने मंगलवार को घटना को अंजाम देते नुकसान पहुंचाया।


पुलिस - पंचायत को सूचना नहीं

करोड़ों रुपए के इंटेकवेल निर्माण कार्य स्वीकृत होने के बाद ठेकेदार ने कार्य शुरु करने की जानकारी पंचायत को दी और न ही बारसूर पुलिस को दी थी। कुछ पहले ही वह किराए से जेसीबी, ट्रेलर मशीन और अन्य उपकरणों के साथ मजदूरों को मौके पर भेजकर काम शुरु किया था।

मौके पर पहुंचे सरपंच ने भी मीडिया के समक्ष इस बात का खुलासा करते कहा कि उसे नहीं मालूम कौन और कब से काम करा रहा है। इसी तरह की बात बारसूर थानेदार ने भी कही। थानेदार की माने तो यदि उन्हें जानकारी होती वे सुरक्षा के लिए जवान साइट में जरूर भेजते। थानेदार ने कहा कि संदिग्धों की तलाश क्षेत्र में की जा रही है।

अटपटी-चटपटी

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.