नक्सलियों ने पहले व़ाहन को आग लगाई, फिर माफी मांगी और चले गएUpdated: Wed, 13 Sep 2017 08:19 PM (IST)

बुधवार की शाम को तारलागुड़ा मार्ग पर आगजनी की घटना के बाद नक्सलियों की अजीबोगरीब स्थिति दिखी।

बीजापुर। बुधवार की शाम को तारलागुड़ा मार्ग पर आगजनी की घटना के बाद नक्सलियों की अजीबोगरीब स्थिति दिखी। उन्होंने पहले तो टिप्पर वाहन को आग लगा दिया। इसके बाद गलती होने की बात कहते हुए ड्राइवर से माफी मांगी और आग भभकने से पहले ही बुझाकर वहां से चले गए।

बुधवार को देर शाम करीब चार बजे तारलागुड़ा मार्ग पर देपला के समीप सड़क निर्माण में लगे टिप्पर को नक्सलियों ने आग लगा दी। प्रत्यक्षदर्शी टिप्पर चालक ने बताया कि ग्रामीण वेशभूषा में चार नक्सलियों ने देपला के समीप टिप्पर को रोक लिया और उसे नीचे उतारकर गाड़ी को आग लगा दी।

जैसे ही उसने नक्सलियों को बताया कि टिप्पर महिला ठेकेदार सीतक्का का है, तो चारों नक्सली माफी मांगने लगे और कहने लगे कि उनसे अनजाने में गलती हो गई। गाड़ी में आग फैलने से पहले ही नक्सलियों ने उसे बुझा भी दिया। इसके चलते टिप्पर को ज्यादा नुक्सान नहीं हो पाया। सिर्फ केबिन क्षतिग्रस्त हुआ है।

चालक के अनुसार जाते-जाते नक्सलियों ने बताया कि आरपी प्रोजेक्ट के ठेकेदार त्रिनाथ रेड्डी की गाड़ियां उनके निशाने पर थीं, परंतु गलती से दूसरी गाड़ी को नुकसान पहुंचा दिया। बता दें कि नक्सलियों ने एक सप्ताह के अंदर जिले में अब तक तीन वाहनों को आग लगाई है, जिसके चलते इलाके में दहशत का माहौल है।

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.