शेयर बाजार नित नए शिखर के सफर पर, सेंसेक्स 31804.82 के उच्चतम स्तर पर बंदUpdated: Wed, 12 Jul 2017 09:36 AM (IST)

अंतरराष्ट्रीय बाजारों से मिल रहे मिले-जुले संकेतों के चलते बुधवार को शेयर बाजार की शुरुआत तेजी के साथ हुई है।

मुंबई। निवेशकों ने कंपनियों के बेहतर नतीजों की उम्मीद में चुनिंदा शेयरों में लिवाली की। इसके चलते दलाल स्ट्रीट में बुधवार को लगातार तीसरे सत्र में तेजी जारी रही।

इस दिन बंबई शेयर बाजार (बीएसई) का सेंसेक्स 57.73 अंक की बढ़त के साथ 31804.82 अंक की नई ऊंचाई पर बंद हुआ। बीते दो सत्रों के दौरान भी यह संवेदी सूचकांक 386.45 अंक उछला था।

इसी प्रकार नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों वाला निफ्टी भी 30.05 अंक चढ़कर 9800 के मनोवैज्ञानिक आंकड़े के पार चला गया। इस दिन यह 9816.10 अंक के उच्चतम स्तर पर बंद हुआ।

कंपनियों के तिमाही वित्तीय नतीजों के एलान का आगाज इसी हफ्ते से होगा। निवेशकों को जून में समाप्त इस तिमाही के दौरान इंडिया इंक के बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद है।

इसके चलते उन्होंने खरीदारी जारी रखी। यह दीगर है कि शाम को खुदरा महंगाई और औद्योगिक उत्पादन के आंकड़े आने से पहले उन्होंने सतर्कता दिखाई, अन्यथा बाजार और भी ज्यादा तेजी के साथ बंद होता।

बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स इस दिन 31813.24 अंक पर मजबूत खुला। कारोबार के दौरान यह ऊंचे में 31865.69 और नीचे में 31731.43 अंक के दायरे में झूलता रहा।

जहां तक बीएसई के अन्य सूचकांकों को सवाल है तो ऑयल एंड गैस में सबसे ज्यादा 1.54 फीसद की तेजी आई। पीएसयू, बैंकिंग और पावर कंपनियों के शेयरों को भी लिवाली का ज्यादा लाभ मिला। सेंसेक्स की तीस कंपनियों में 18 के शेयर चढ़े, जबकि 12 नीचे आए।

रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयर ने नौ साल का ऊंचा स्तर छुआ

इस दिन उद्योगपति मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयर में एक फीसद से ज्यादा की तेजी आई। इसके चलते बीएसई में यह शेयर नौ साल के ऊंचे स्तर 1510.50 रुपये पर बंद हुआ।

इससे कंपनी का बाजार पूंजीकरण यानी मार्केट कैपिटाइजेशन करीब पांच हजार करोड़ रुपये बढ़कर 4,91,149 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। कारोबार के दौरान यह एक समय यह 1524.50 अंक को छू गया।

कंपनी की सहयोगी जियो के अपने डाटा प्लान की दरें महंगी करने के बाद निवेशकों ने इसके शेयरों में दिलचस्पी दिखाई।

अटपटी-चटपटी

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.